भीलवाड़ा

शिक्षा विभाग – अधिकारियों की लापरवाही, संविदा कर्मी ने किया 72 लाख का गबन, कितने प्रिसिंपल व सीबीईओ दोषी ? गिर सकती गाज

Bhilwara News।भीलवाड़ा जिले के शिक्षा विभाग में लगातार एक के बाद एक कारगुजारी आ सामने आ रही है सुवाणा सीबीईओ ब्लॉक में नियम विरुद्ध पीएल देने का मामला भी थमा भी नहीं कि जिले के ही कोटडी ब्लॉक में स्थित मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में पिछले 14 सालों से संविदा पर कंप्यूटर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत एक संविदा कर्मी ने शिक्षा विभाग और सरकार को 72 लाख से अधिक का जो बनकर चूना लगा दिया है ।

इस गबन के लिए ब्लॉक के इस अवधि के दौरान नियुक्त राय सीबीईओ तथा ब्लॉक की उन स्कूलों के प्रिंसिपल और प्रधानाध्यापक जिन पर विभाग की गाज गिरेगी

जिले के कोटडी सीबीईओ कार्यालय में सविंदा पर कार्यरत कम्प्यूटर ऑपरेटर गोपाल सुवालका के खिलाफ बडलियास थाने में दर्ज हुए 12 लाख के मामले के बाद शुक्रवार को शिक्षा विभाग के ब्लॉक मुख्य शिक्षा अधिकारी ने कोटडी थाने में 60 लाख के करीब गबन का मामला दर्ज कराया बै

कोटडी थाने में कार्यवाहक सीबीईओ बलराम मीणा ने दर्ज कराई रिपोर्ट मे बताया कि प्राथमिक विभागीय जांच में 2007 से कम्प्यूटर ओपरेटर पर कार्यरत हुए गोपाल सुवालका ने 2010 से अगस्त 2021 तक अपनी पत्नी श्रीमती दिलखुश सुवालका के कोटडी स्थित एसबीआई बेंक खाते को खंगाला तो उसमें 60 लाख से अधिक रुपए जमा होने के साथ ही वापस निकलने की सूची देखने में पाया कि खाते की सभी राशि राजकीय कोष से उसके खाते में जमा होना पाया गया। अधिकारी ने रिपोर्ट मे बताया कि सुवालका ने कूटरचित तरीके से पत्नी के खाते में राशि डाल कर गबन कर लिया गया है।

रिपोर्ट के अनुसार गोपाल लाल सुवालका निवासी रीठ हाल मुकाम रीठ रोड कोटडी है। सीबीईओ कार्यालय के अधीन संविदा कर्मचारी के रूप में सन 2007 से 13 अगस्त 2021 तक कार्यरत था।

बताया जाता है कि 12 अगस्त 2021 को पंचायत प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारी एवं प्रधानाचार्य गेगाकाखेडा द्वारा बड़लियास थाने में गोपाल लाल सुवालका पर विश्वाघात एवं धोखाधडी कर लगभग 12 लाख रूपये की राजकीय राशि का नियम विरुद्ध आहरण करने का मामला दर्ज करवाया है। जिसकी रिपोर्ट पीईईओ गेगाकाखेडा द्वारा सीबीईओ कार्यालय को उपलब्ध कराए जाने के बाद से ही विभाग में खलबली मची हुई है।

दो दिन तक चली विभागीय जांच में प्रारंभिक तौर पर पीईईओ गेगाकाखेड़ा की रिपोर्ट व एफआईआर के आधार पर सीबीईओ द्वारा अपने स्तर तथा जांच टीम के द्वारा स्थानीय सीबीईओ कार्यालय के लेखा रिकोर्ड की जांच व बैंक खाते की जांच मे पता चला की सुवालका ने अपनो पत्नी दिलखुश सुवालका के खाते मे 2011-12 से अब तक 60 लाख रुपये बतौर वेतन जमा करवाए है ।

जांच मे अब तक यह खुलासा

शिक्षा विभाग द्वारा की गई प्रारंभिक तौर पर अब तक की गई जांच में यह पता चला है कि संविदा पर कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटर गोपाल सवाल का बढ़ाई शातिर है और उसने पहले रवि कुमार के नाम से तथा बाद में सुरेंद्र चौधरी के नाम से एक फर्जी आईडी बना रखी थी और इसका वेतन उसकी पत्नी दिलखुश के खाते में जमा हो रहा था और

सबसे बड़ी आश्चर्य की बात यह है कि आज की तारीख तक ₹90000 वेतन जमा हो रहा था जिसमें से कोई कटौती तक नहीं हो रही थी न इनकम टैक्स की कटौती न जीपीएफ और ना ही ईएसआई जबकि हर कर्मचारी की कटौती होती है तो फिर इसके कटौती क्यों नहीं हुई ? और जब कटौती नहीं हो रही थी तो आखिर यह संध्या पकड़ में क्यों नहीं आया ?

इस गबन मे कौन-कौन जिम्मेदार और सवालो के घेरे मे कौन

जांच के दौरान पता चला है कि संविदा पर कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटर भोपाल सवाल का कोटडी ब्लॉक स्थित करीब 10-12 स्कूलों के वेतन का सारा कार्य यही करता था और इन सभी स्कूलों के प्रधानाचार्य और प्रिंसिपल ओ के पासवर्ड आईडी इसी के पास थे तथा कोटडी मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय का बीसा काम यही देखता था और सीबीआई के पासवर्ड ओआईडीबी गोपाल सुवालका के पास ही थे ।

 

अब सवाल यह उठता है कि महाराणा अधिकारी सीबीईओ होता है और सवर्ण अधिकारी संबंधित स्कूल का प्रिंसिपल या प्रधानाध्यापक होता है तो आखिर उन्होंने इतने सालों तक लापरवाही बरती वेतन में कटौती नहीं होने पर ध्यान क्यों नहीं दिया ?

इस गबन के लिए कोटडी ब्लॉक के करीब 10:00 सीबीईओ जिम्मेदार है तथा इस ब्लॉग 10 से 12 राजकीय स्कूलों की प्रिंसिपल और प्रधानाध्यापक जिनके कार्यकाल में और जिनका काम गोपाल सवाल का कर रहा था वह जिम्मेदार है ?

इन पर विभाग की गाज गिरेगी इसके साथ ही बैंक की कार्मिक और जिला कोष कार्यालय का संबंधित कार्मिक भी जिम्मेदार है कि उसने कटौती नहीं होने पर इसे पकड़ा क्यों नहीं ?

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम