मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजनान्तर्गत निरस्त आवेदन रि-स्टोर, आवेदनकर्ता 15 दिसंबर तक कर सकते है आक्षेप पूर्ति

Forest Guard Direct Recruitment Exam on 12th and 13th November

भीलवाड़ा। मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजनान्तर्गत वर्ष 2022-23 में जारी प्रोविजनल सूची में अंकित जिन छात्रों के कमियां होने के कारण उनके आवेदन निरस्त किये गये थे।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेषक  सत्यपाल जांगिड़ ने बताया कि मुख्य सचिव महोदय द्वारा मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की समीक्षा बैठक के दौरान दिये गये निर्देशों के क्रम में निरस्त किये गये आवेदनों को निदेशालय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा रि-स्टोर कर दिये गये हैं।

उन्होंने बताया कि छात्र-छात्राओं को निदेशालय द्वारा एस.एम.एस. द्वारा सूचित कर दिया गया है। उन्होंने छात्र-छात्राओ को सूचित करते हुए बताया कि 15 दिसंबर तक सही आक्षेप पूर्ति कर विभाग की आई. डी. पर प्रेषित करें। इसके पश्चात आवेदनों पर किसी भी प्रकार की कार्यवाही किया जाना छात्र-छात्राओं द्वारा संभव नही होगा।

 जांगिड़ ने बताया कि उत्तर मैट्रिक विशेष पिछडा वर्ग छात्रवृति योजनान्तर्गत सभी राजकीय व अराजकीय शिक्षण संस्थानों को वर्ष 2019-20, 2020-21 व 2021-22 की अवधि के विशेष पिछड़ा वर्ग में लम्बित आवेदनों का नियमानुसार निस्तारण करने के लिए निर्देषित किया गया था।

उन्होनंे बताया कि सभी आक्षेपित और लम्बित आवेदनों को शिक्षण संस्थान और विद्यार्थी स्तर से तीन दिवस में आवश्यक रूप से शीघ्र निस्तारण कार्यवाही करें।