भीलवाड़ा

भीलवाड़ा में गहलोत सरकार की पहल पर साढ़े 3 हजार करोड़ से अधिक के इन्वेस्टमेंट की संभावना

भीलवाडा/ प्रदेश मे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप राजस्थान इन्वेस्टमेंट सम्मिट 2021 की शुरुआत पूरे प्रदेश मे की जा रही है और इसी के तहत भीलवाडा मैं भी 15 दिसंबर को होटल ग्लोरिया इन में राजस्थान इन्वेस्टमेंट सम्मिट के तहत जिला स्तरीय इन्वेस्टर सम्मिट होने जा रहा है इस सबमिट कार्यक्रम में राजस्थान के प्रवासी और भीलवाड़ा के प्रवासी उद्योगपति भीलवाड़ा में जिन उद्योगों की संभावनाओं को लेकर करीब साढे 3 करोड़ से अधिक का इन्वेस्टमेंट होने की संभावना है ।

जिले में निवेश का अच्छा वातावरण बनाने, रोजगार की संभावनाएं बढ़ाने एवं नए उद्यमों को स्थापित करना ही  इन्वेस्टमेंट  सम्मिट का मुख्य उद्देश्य है,
यह बात भीलवाड़ा जिला कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते ने सोमवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित प्रेस वार्ता में मौजूद पत्रकारों से कहीं  उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं राज्य सरकार की मंशानुरूप इन्वेस्टर सम्मिट की शुरुआत भीलवाड़ा में 15 दिसंबर को ‘‘होटल ग्लोरिया इन’’ से  होने जा रही है ,
इसका मुख्य उद्देश्य टेक्सटाइल, एग्रो प्रोसेसिंग ,खनन, लैंड , हॉस्पिटल सहित विभिन्न क्षेत्रों में निवेश को बढ़ाना व नये निवेशको को प्रोत्साहित करना है  ।

नकाते ने कहा कि राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य ‘‘कमिटेड एंड डिलीवर’’ की थीम पर यह सम्मिट आयोजित करवाना है । साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार व जिला प्रशासन उद्योगो से जुड़ी प्रत्येक समस्याओं के समाधान हेतु सदैव तत्पर है ।

सम्मिट की पूर्व तैयारियों को लेकर की समीक्षा बैठक

प्रेस वार्ता से पूर्व जिला कलक्टर ने जिले के वरिष्ठ अधिकारियो , पुलिस प्रशासन के अधिकारीगण एवं उद्यमीगणों व एसोसिएशन के प्रतिनिधियों के साथ पूर्व तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की ।

बैठक में सम्मिट के मिनट-टू-मिनट कार्यक्रम, बैठक व्यवस्था, सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों  पर चर्चा हुई ।

जिला कलक्टर ने कहा कि सभी जिम्मेदारी लेकर सम्मिट को सफल बनाने में स्वयं का योगदान दें ।

होजरी पर फोकस,साढे 3 करोड का निवेश की संभावना

सूत्रों के अनुसार इस समिट में राजस्थानी और भीलवाड़ा के प्रवासियों जो विदेशों में कारोबार कर रहे हैं उन धूप पतियों के द्वारा भीलवाड़ा में करीब साढे 3 हजार करोड़ का निवेश करने की संभावनाओं की स्वीकृति मिली है और करीब 100 से अधिक ऐसे उद्योग पतियों की सूची भी तैयार की जा चुकी है हालांकि अभी तक यह अधिकृत और जिला प्रशासन द्वारा इसकी पुष्टि नहीं है ।

कलेक्टर नकाते की मंशा

जिला कलेक्टरशिवप्रकाश एम नकाते की प्रबल इच्छा है कि भीलवाड़ा में टेक्सटाइल और सिंथेटिक्स उद्योग को देखते हुए यहां होजरी का उद्योग महाराष्ट्र की तरह लघु उद्योग के रूप में शुरुआत होकर बड़े स्तर पर अच्छी तरह से पनप सकता है जिससे हजारों लोगों को रोजगार मिल सकता है

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम