“मई-जून में बढ़ा विद्युत उपभोग,जारी बिल नियमानुसार सही– एसईं उपाध्‍याय

Bilwara News।अजमेर विद्युत वितरण निगम के अधीक्षण अभियंता  एसके उपाध्‍याय द्वारा भीलवाड़ा शहर में लॉकडाउन अवधि के दौरान औसत आधार पर जारी किए गए प्रोविजनल बिलों के संबंध में आ रही शिकायतों की जांच कराने के पश्चात बताया गया है कि अनलॉक होने के बाद ली गई मीटर रीडिंग के आधार पर जारी वास्‍तविक बिलों …

“मई-जून में बढ़ा विद्युत उपभोग,जारी बिल नियमानुसार सही– एसईं उपाध्‍याय Read More »

July 1, 2021 11:49 am

Bilwara News।अजमेर विद्युत वितरण निगम के अधीक्षण अभियंता  एसके उपाध्‍याय द्वारा भीलवाड़ा शहर में लॉकडाउन अवधि के दौरान औसत आधार पर जारी किए गए प्रोविजनल बिलों के संबंध में आ रही शिकायतों की जांच कराने के पश्चात बताया गया है कि अनलॉक होने के बाद ली गई मीटर रीडिंग के आधार पर जारी वास्‍तविक बिलों में पुर्व के प्रोविजनल बिलों की राशि समायोजित की गई है।

वास्तव में गर्मी के मौसम में विद्युत उपभोग बढ़ने के चलते उपभोक्‍ताओं की बिल राशि बढी है। बिल राशि की गणना प्रदेश में समान रूप से जारी टैरिफ व दिशानिर्देशों के अनुसार ही की जाती है।

एसई उपाध्‍याय ने बताया कि पिछले दिनों निगम कार्यालयों में अनेक उपभोक्‍ताओं से शिकायत मिली कि उन्‍हें अधिक राशि के बिल जारी किए गए हैं। सभी शिकायतों के अनुसार बिलों की जांच करवाई गई है जिसमें पाया गया है कि सभी बिल विद्युत निगम के दिशानिर्देशों के अनुरूप एवं नियमानुसार ही जारी किए गए हैं।

लॉकडाउन अवधि के दौरान राज्‍य सरकार के आदेशानुसार 31 मई तक मीटर रीडिंग न मंगवाकर उपभोक्‍ताओं को बिल प्रोविजनल आधार पर जारी किए जा रहे थे। ये बिल माह जनवरी,फरवरी,मार्च व अप्रेल’21 के विद्युत खर्च के औसत के आधार पर बनाए गए। चूंकि इस अवधि में सर्दी के मौसम के कारण घरों में विद्युत खपत काफी कम होने के कारण बिल भी कम राशि के होते हैं।

वहीं वास्‍तविक उपभोग मई व जून के मौसम में किया गया,जो कि गर्मी का मौसम होता है और इसमें कूलर, पंखों और एसी चलने के कारण विद्युत उपभोग कहीं अधिक होता है। तुलनात्‍मक रूप से उपभोक्‍ताओं का गर्मी का बिल सर्वाधिक आता है। भीलवाड़ा शहर में एमबीसी योजना के अंतर्गत मीटर रीडिंग बिना मानव हस्‍तक्षेप के की जाती है,जिसमें त्रुटि की संभावना भी नगण्‍य है।

इस नबंर पर अपनी शिकायत का कर फकते समाधान

उपभोक्‍ताओं को प्रोविजनल आधार पर जारी बिलों को समायोजित कर उनके यहां उपभोग की गई बिजली की मीटर रीडिंग अनुसार ही बिल जारी किये गये हैं। इसके बाद भी यदि किसी उपभोक्‍ता को अपने बिल विद्युत उपभोग से अधिक लगते हैं तो वे उपभोक्ता सेवा केंद्र पर सम्‍पर्क कर सकते हैं या व्हाट्सएप नम्बर 6367223344 पर शिकायत दर्ज कराकर बिल की जांच करा सकते हैं।

Prev Post

आम आदमी को झटका घरेलू गैस सिलेंडर की दरे बढी, पिछले 6 माह में बढ़े

Next Post

प्रदेश में कई जिलों में एसीबी के छापे

Related Post

Latest News

पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi

Trending News

NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..

Top News

पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन.. 
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज