कोरोना की रप्तार पिछले साल से तीन गुना,34 दिन में संक्रमित रोगी 1000 पार , सीएम ने कहा लगना पड़ सकता लाॅकडाउन

sound of a new wave of Corona, may wreak havoc
File photo

Jaipur । कोरोना संक्रमण की चेन तोडऩे में जुटी राज्य सरकार के साथ प्रदेशवासियों के लिए कोरोना की दूसरी लहर चिंता पैदा करने वाली है। दूसरी लहर में नए मरीज बढऩे की रफ्तार बहुत तेज है। राजस्थान में पिछले साल 60 से 600 रोगी होने में 92 दिन लगे थे, लेकिन इस साल सिर्फ 34 दिन में ही नए रोगी 60 से 1082 के आंकड़े तक पहुंच गए हैं।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पाॅजिटिव रोगियों की तेजी से बढती संख्या पर चिंता व्यक्त करते हुए प्रदेशवासियों कडा रूख अपनाते हुए अपील की है की कोरोना गाइडलाइन की पालना ईरे नही तो प्रदेश मे फिर से लाॅकडाउन लग्ना पड सकता है । कोरोना की दूसरी लहर से अब 9 मौते हो चुकी है ।

प्रदेश में सोमवार को कोरोना के 602 नए मरीज मिले, जबकि 16 फरवरी को यह आंकड़ा 60 तक लुढक़ गया था। मंगलवार को 480  चिंता की बात इसलिए है, क्योंकि दूसरी लहर की रफ्तार पहली लहर के मुकाबले तीन गुना है। सोमवार को मौतों ने भी पिछले 76 दिन का रिकॉर्ड तोड़ा है। प्रदेश में आज तक 9 मौतें हुईं। मास्क और दूरी का मंत्र भूलने के कारण प्रदेशवासी दोबारा कोरोना संक्रमण की मार झेल रहे हैं।

राजस्थान में कोरोना की बढ़ती रफ्तार ने आम लोगों के साथ-साथ प्रशासन को भी चिंता में डाल दिया है। अकेले मार्च में ही नए केस मिलने की रफ्तार छह गुना हो गई है। दो मार्च को पूरे राज्य में 102 मामले आए थे, जबकि 22 मार्च को यह आंकड़ा 602 नए केस तक पहुंच गया।

आज प्रदेश में 480 नए कोरोना संक्रमित मिले

जयपुर 97, कोटा 49, उदयपुर 48,जोधपुर 52, राजसमंद 31,डूंगरपुर 16,भीलवाड़ा 22, झालावाड़ 15, बारां 16,अजमेर 34, बांसवाड़ा 15 नए संक्रमित मिले,प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस 4,262