गहलोत सरकार के मंत्री की सरकारी प्रेस कांफ्रेंस का भीलवाड़ा मे पत्रकारो ने किया बाॅयकाट, नही सहेंगे अपमान

State government should implement Journalist Protection Act, journalists expressed their anger in the meeting of IFW,

भीलवाड़ा/ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार के कैबिनेट मंत्री को एक आईएएस अधिकारी की सलाह पर पत्रकारों का अपमान करना उस समय भारी पड़ गया जब पत्रकारों ने सामूहिक निर्णय लेते हुए मंत्री की सरकारी प्रेस कॉन्फ्रेंस का बहिष्कार कर दिया मंत्री 1 घंटे तक पत्रकारों का इंतजार करते रहे लेकिन पत्रकार नहीं पहुंचे और आखिर मंत्री को बिना प्रेस कॉन्फ्रेंस के ही जाना पड़ा।

राजस्थान सरकार में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मंत्रिमंडल में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल विभाग के मंत्री डॉक्टर महेश जोशी जो भीलवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री भी हैं और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर प्रदेश के सभी प्रभारी मंत्री जिलों के दौरे पर होकर सरकार के 4 साल के कार्यकाल और अंतिम साल के दौरान कार्य के क्रियान्वित को लेकर दौरे कर रहे हैं और फीडबैक ले रहे हैं।

इसी कड़ी में भीलवाड़ा के प्रभारी मंत्री डॉ महेश जोशी शुक्रवार 20 जनवरी से दो दिवसीय दौरे पर भीलवाड़ा आए थे और कल जिला कलेक्ट्रेट में जिले के प्रभारी सचिव और राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण मंडल बोर्ड के अध्यक्ष नवीन महाजन भीलवाड़ा जिला कलेक्टर आशीष मोदी सभी अधिकारियों की एक समीक्षा बैठक ली समीक्षा बैठक लेने के दौरान ही बैठक शुरू होने से पूर्व ही जब बैठक का समय पत्रकार भी कवरेज करने के लिए बैठे थे।

उसी दौरान जिले के प्रभारी सचिव नवीन महाजन की नजर पत्रकारों पर पड़ी तो नवीन महाजन ने मंत्री डॉ महेश जोशी के कान में कुछ बुदबुदाया और उसके बाद प्रभारी मंत्री डॉ महेश जोशी ने बड़े अधिकारियों के मीटिंग हॉल में पत्रकारों को मीटिंग से बाहर निकाल दिया पत्रकार अपमान का घूंट पीकर बाहर निकल गए ।

इस समीक्षा बैठक के बाद सरकारी स्तर पर प्रभारी मंत्री डॉ महेश जोशी की प्रेस काउंसिल से की गई थी लेकिन पत्रकारों ने भरी मीटिंग में मंत्री द्वारा किए गए अपमान को मध्य नजर रखते हुए प्रभारी मंत्री जोशी की प्रेस कांफ्रेंस का सामूहिक रूप से बाय काट कर दिया।

भीलवाड़ा के सभी पत्रकारों के सामने इस निर्णय की भनक जिला कलेक्टर प्रशासन को लगी तो सबके हाथ पैर फूल गए और जनसंपर्क अधिकारी को रूठे हुए पत्रकारों को मनाने का दायित्व सौंपा लेकिन जनसंपर्क अधिकारी इसमें असफल रहे।

इसके बाद प्रशासन ने भीलवाड़ा की राजस्थान सरकार में मंत्री के जरिए पत्रकारों से सुलह कराने की कोशिश की लेकिन पत्रकारों ने भीलवाड़ा के मंत्री महोदय को अपनी व्यथा बताते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस करने से साफ इनकार कर दिया रूठने और मनाने का यह दौर काफी देर तक चलता रहा।

लेकिन पत्रकार अपने इस सामूहिक निर्णय पर अड़े रहे और उधर मंत्री डॉक्टर जोशी तथा प्रभारी सचिव नवीन महाजन जिला कलेक्टर आशीष मोदी 1 घंटे तक पत्रकारों का इंतजार करते रहे और जब पत्रकार नहीं माने तो प्रभारी मंत्री अपनी कार में बैठकर निकल गए।