लोस चुनाव- जोशी अब कांग्रेस से होंगे भीलवाड़ा प्रत्याशी, कांग्रेस कार्य कर्ताओं मे आया उबाल, भाजपा मे निराशा

Dr. CHETAN THATHERA

भीलवाड़ा। लोकसभा में भीलवाड़ा लोकसभा सीट पर भाजपा और संघ के बीच में चल रहे विवाद का कांग्रेस ने फायदा उठाते हुए तथा पार्टी से प्रदेश में एक ब्राह्मण चेहरे को मैदान में उतरने की कवायत को अंतिम रूप देते हुए भीलवाड़ा लोकसभा सीट से अपने पूर्व घोषित प्रत्याशी दो दामोदर गुर्जर को राजसमंद से चुनाव लड़ने और पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा विधानसभा के अध्यक्ष रहे और भीलवाड़ा के पूर्व सांसद रहे सीपी जोशी को एक बार फिर से भीलवाड़ा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है और इसकी घोषणा आज शाम तक होने की संभावना है ।

भीलवाड़ा लोकसभा सीट भाजपा के लिए सबसे सुरक्षित सीट मानी जाती है और पिछले 10 सालों से लगातार भाजपा के सांसद का कब्जा इस पर बरकरार है 2019 के लोकसभा चुनाव में तो भाजपा के सांसद प्रत्याशी सुभाष बहेड़िया ने कांग्रेस के प्रत्याशी रामपाल शर्मा जो अब भाजपा में शामिल हो गए हैं को 6 लाख 12000 मतों से हराकर देश में सबसे बड़ी चौथी जीत का रिकॉर्ड अपने नाम कायम किया था ।

लेकिन इस बार भाजपा प्रदेश की 25 विधानसभा सीटों में से 24 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है लेकिन भीलवाड़ा में अभी तक प्रत्याशी की घोषणा नहीं कर पाई है इसके पीछे कारण विधानसभा चुनाव के दौरान से ही भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बीच वर्चस्व की लड़ाई और स्थानीय नेताओं के स्वार्थ की लड़ाई ने इस सीट को मझधार में डाल दिया है

S.C.G.C.I SCHOOL TONK

भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ स्थानीय नेताओं और पदाधिकारी के बीच स्वार्थ और वर्चस्व की लड़ाई का फायदा उठाते हुए कांग्रेस ने यहां से घोषित किए हुए प्रत्याशी डॉक्टर दामोदर गुर्जर को अब राजसमंद से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है राजसमंद से कांग्रेस द्वारा घोषित प्रत्याशी सुदर्शन सिंह रावत द्वारा चुनाव लड़ने से इनकार करते हुए ।

टिकट वापस लौट के बाद बनी असमजस की स्थिति और भीलवाड़ा लोकसभा सीट पर बना रहे हालात को देखते हुए तथा कांग्रेस द्वारा प्रदेश में एक भी ब्राह्मण नेता को प्रत्याशी नहीं बनाएं जन को लेकर चल रहे विवाद इन सभी समीकरणों और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने सूझबूझ का परिचय देते हुए 2009 से 2014 तक लोकसभा में भीलवाड़ा संसदीय सीट से प्रतिनिधित्व कर मंत्री बने डॉक्टर सीपी जोशी को चुनाव

लड़ने के लिए केंद्रीय नेताओं सहित प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा राजस्थान प्रभारी सुखजिंद्र सिंह रंधावा सहित वरिष्ठ नेताओं ने डॉ सीपी जोशी को भीलवाड़ा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए बहुत मुश्किल से मनाया और इन सब नेताओं के आग्रह के बाद डॉक्टर सीपी जोशी भीलवाड़ा से चुनाव लड़ने के लिए तैयार हो गए हैं और डॉ जोशी

की स्वीकृति के बाद प्रदेश कांग्रेस ने भीलवाड़ा प्रत्याशी दामोदर गुर्जर को राजसमंद से और डॉक्टर सीपी जोशी को भीलवाड़ा से प्रत्याशी बनाने का प्रस्ताव बनाकर स्वीकृति के लिए केंद्रीय नेतृत्व को भेज दिया है जिस पर आज शाम तक मोहर लगने की संभावना है किसी के साथी डूंगरपुर बांसवाड़ा सीट पर भी निर्णय लेकर प्रत्याशी घोषित किया जा सकता है।

कांग्रेस द्वारा डॉक्टर सीपी जोशी को भीलवाड़ा प्रत्याशी बनाए जाने के बाद भीलवाड़ा के कांग्रेस कार्यकर्ताओं मैं उबाल आ गया है पहले कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में जोश और नूर सब पीके थे लेकिन जैसे ही जोशी भीलवाड़ा से चुनाव लड़ने की स्वीकृति दी और इसकी आंतरिक रूप से सूचना भीलवाड़ा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं नेताओं के पास पहुंची तो दुगना जोश आ गया ।

दूसरी और भाजपा अभी भी माझधार में है और जोशी के आने के बाद भीलवाड़ा सीट जिस पर भाजपा की एक तरफ जीत मानी जा रही थी वह अब कांटे की टक्कर में आ गई है।

भीलवाड़ा मे ब्राह्मण समाज के मतदाता है इसका फायदा कांग्रेस और कांग्रेस प्रत्याशी को मिलेगा ।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम