जिला प्रशासन ने अक्षय तृतीया पर रुकवाए 8 बाल विवाह

Dr. CHETAN THATHERA
2 Min Read

भीलवाड़ा। जिला बाल संरक्षण इकाई द्वारा संचालित चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर प्राप्त जिले में विभिन्न बाल विवाह की सूचना पर जिला प्रशासन द्वारा अक्षय तृतीया पर 8 बाल विवाह रुकवाएं गए।

उपखंड अधिकारी आव्हाद निवृत्ति सोमनाथ के निर्देशानुसार बडलियास पुलिस की सहायता से 1 बाल विवाह, प्रतापनगर पुलिस की सहायता से 1 एवं मंगरोप पुलिस की सहायता से 1 बाल विवाह रुकवाया गया।मांडलगढ़ तहसीलदार के सहयोग से बरुंधनी में 1,जहाजपुर उपखंड अधिकारी, बाल कल्याण समिति एवं तहसीलदार से संपर्क कर शकरगढ़ पुलिस के सहयोग से 1 एवं पंडेर पुलिस की सहायता से 1, हनुमाननगर पुलिस की सहायता से 1 तथा रायपुर पुलिस के सहयोग से 1 बाल विवाह रुकवाया गया।

Advertisement

उपखंड अधिकारी आव्हाद निवृत्ति सोमनाथ ने बताया की भीलवाड़ा प्रशासन द्वारा बाल विवाह की रोकथाम के लिए किए गए जागरूकता अभियान एवं प्रशासन की सख्ती के कारण चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 एवं बाल विवाह नियंत्रण कक्ष पर सूचना प्राप्त होने पर अक्षय तृतीया पर होने वाले बाल विवाह को रोका गया।

S.C.G.C.I SCHOOL TONK
ADVERTISEMENT

जिला बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक मोहमद अशफाक खान ने बताया कि जिला कलक्टर श्री नमित मेहता के निर्देशानुसार और राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग के निर्देशों की अनुपालन में अक्षय तृतीया के अवसर पर होने वाले बाल विवाह की रोकथाम के लिए जिले में जागरूकता अभियान चलाया गया एवं बाल विवाह की रोकथाम में पंच एवं सरपंच एवं सभी विभागों की भूमिका के लिए उनसे संपर्क कर बाल विवाह रोकथाम की सूचना पहुचाई गई, जिसके परिणामस्वरूप जिले में अक्षय तृतीया के अवसर पर 8 बाल विवाह रुकवाए गए।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम