कलेक्टर मेहता ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों की ली अच्छी क्लास, करेडा सीबीईओ के खिलाफ कार्रवाई के आदेश

Dr. CHETAN THATHERA
4 Min Read

भीलवाड़ा/ जिला स्तरीय निष्पादक समिति की बैठक मंगलवार को जिला कलक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में जिला कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई।

बैठक के दौरान जिला कलक्टर ने विद्यालयों में ब्लॉकवार यूनिफार्म वितरण रिपोर्ट की प्रगति, विद्यालय में आईसीटी लैब की क्रियाशीलता,जिला रैंकिंग, पीएम श्री योजना की समीक्षा की। सीडीईओ श्रीमती अरुणा गारू, एडीपीसी समग्र शिक्षा योगेश चन्द्र पारीक ने प्रगति रिपोर्ट की जानकारी दी।

बैठक में जिले में ब्लॉकवार यूनिफार्म वितरण की समीक्षा के दौरान कोटडी, करेड़ा, शाहपुरा, सुवाणा तथा बिजोलिया ब्लॉक के यूनिफॉर्म वितरण में प्रगति नहीं पाए जाने पर जिला कलक्टर ने नाराजगी जाहिर की।

इस दौरान जिला कलेक्टर ने कहा कि अधिकारी अपने दायित्वों का निष्ठापूर्वक निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि कार्य के प्रति लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मेहता ने यूनिफॉर्म वितरण की मॉनिटरिंग करने के लिए सुपरवाइजर अधिकारी मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया। कलेक्टर मेहता ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों की ली अच्छी क्लास, करेडा सीबीईओ के खिलाफ कार्रवाई के आदेश

मेहता ने कहा कि शुक्रवार तक यूनिफॉर्म वितरण की रिपोर्ट पोर्टल पर अपडेट करें। बैठक में करेड़ा सीबीईओ के अनुपस्थित पाए जाने पर जिला कलक्टर ने उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई करने को कहा आईसीटी लैब की समीक्षा के दौरान जिला कलक्टर ने मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी से कहा कि जिले की आईसीटी लैब से वंचित शेष राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रस्ताव 5 फरवरी तक भिजवा दिए जाए।

जिला रैंकिंग की समीक्षा के दौरान जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि जिला रैंकिंग को प्रभावित करने वाले सभी बिंदुओं की नियमित समीक्षा करें। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में नामांकित विद्यार्थियों की औसत उपस्थिति 85 प्रतिशत से ऊपर रहें।

यह सुनिश्चित करें। जिला कलक्टर ने कहा कि जन आधार के माध्यम से विद्यार्थियों को कई सुविधाएं मिलती है इसलिए विद्यार्थियों का जनआधार प्रमाणीकरण कैंपेन मोड पर करवाया जाए।

मिड डे मी चखकर ही दें

बैठक में जिला कलेक्टर ने मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी से कहा कि जिले का कोई भी स्कूल विद्युत कनेक्शन से वंचित के नहीं रहे। उन्होंने जिला स्तरीय राष्ट्रीय पोषाहार कार्यक्रम के अंतर्गत विद्यालयों में मिड डे मील कार्यक्रम की जानकारी भी ली। मेहता ने कहा कि एमडीएम की गुणवत्ता परखने के उपरांत ही बच्चों को दिया जाए।

बैठक के दौरान जिला कलक्टर ने समग्र शिक्षा योजना, नाबार्ड योजना, डीएमएफटी योजना के तहत स्वीकृत कार्यों तथा प्रगतिरत व पूर्ण हुए कार्यों की जानकारी ली। मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहनलाल खटनावलिया ने शिक्षा विभाग के अधिकारी से राजकीय विद्यालयों में टीन शेड लगवाने के संबंध में प्रस्ताव भिजवाने को कहा।

बैठक में जिला कलक्टर ने शिक्षा अधिकारियों से विद्यालयों में स्वच्छता और साफ-सफाई पर ध्यान केंद्रित करने को कहा।

स्वच्छ विद्यालय, स्वस्थ विद्यालय” अभियान 

कलेक्टर ने विद्यालय के स्वच्छ, सुंदर परिसर, स्वच्छ शौचालय एवं हरित विद्यालय तथा स्वच्छ व स्वस्थ विद्यार्थी होने की पहल की विस्तार से जानकारी दी। पेयजल (जलसुधा) के अंतर्गत विद्यार्थियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने, विद्यालय के स्टोरेज टैंक की नियमित साफ सफाई तथा उसकी तिथि का अंकन, साथ ही विद्यार्थियों को घर से पानी की बोतल लाने के लिए प्रेरित करने व विद्यालय में वाटर प्यूरीफायर की स्थापना संबंधी जानकारी दी।पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए वेस्ट टू बेस्ट से विद्यालय के सौंदर्यीकरण पर जोर दिया।

 

इस दौरान बैठक में जिले के मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी सहित शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम