सीडीईओ गारू ने लसाडिया व देवपुरी स्कूल का औचक निरीक्षण, विद्यार्थियों का शैक्षणिक स्तर कमजोर, शिक्षकों की मिली लापरवाही

Dr. CHETAN THATHERA
3 Min Read

भीलवाड़ा। मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी( सीडीईओ) श्रीमती अरुणा गारू ने आज शाहपुरा जिले मे स्थित लसाडिया और देवपुरी स्कूल का औचक निरीक्षण किया और चक निरीक्षण के दौरान स्कूल में कई खामियां पाई गई बच्चों का शिक्षा का स्तर बिल्कुल निम्न पाया गया तथा पोषाहार में भी कमी पाई गई। दोनों ही स्कूलों में बच्चों का शैक्षणिक स्तर बहुत ही कमजोर पाया गया तथा एक शिक्षक नदारद मिला । स्कूल के प्रिंसिपल और शिक्षको के खिलाफ अब विभागीय कार्रवाई अमल मे लाई जाएगी।

मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती अरूणागरू ने बताया कि शुक्रवार को दोपहर में पोषाहार के समय शाहपुरा जिले में स्थित लसाडिया गांव में स्थित लसाडिया राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय और इसकी ही अधीनस्थ( पीईईओ)स्कूल देवपुरी प्राथमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान पाया कि विद्यार्थियों को पोषाहार जमीन पर बिना बिछाए ही बिठाकर खिलाया जा रहा था तथा आज निर्धारित मीनू दाल रोटी के बजाय आलू की सब्जी रोटी बनाई गई थी और जब वह निरीक्षण करने पहुंची और उनसे नमूने के रूप में पोषाहार अर्थात बनाई गई सब्जी रोटी चखने के लिए मांगी तो स्टाफ ने कहा कि खाना है ही नहीं खत्म हो गया।

इस असंतोष जवाब से प्रतीत होता है कि पोषाहार बनाया ही नहीं गया ? यह हाल राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल देवपुरी का था । इस स्कूल की जब किचन देखी गई तो वहां गंदगी थी इसी तरह लसाडिया स्कूल में भी स्टोर रूम में कबाड़ भरा हुआ था एक शिक्षक भेरूलालरेगर हाजरी रजिस्टर में साइन करके स्कूल से गायब हो गया यह जानकारी मिली। देवपुरी स्कूल लसाडिया स्कूल के अधीन है अर्थात पीईईओ लसाडिया स्कूल के प्रिंसिपल है ।

सीडीईओ श्रीमती गारू ने बताया की दोनों ही स्कूल में बच्चों का शैक्षणिक स्तर बहुत ही निम्न पाया गया जब बच्चों को खड़ा कर क्लास में अंग्रेजी में उनका नाम पूछा गया तो किसी भी विद्यार्थी ने नाम ही नहीं बताया यहां तक हिंदी के शब्द लिखना भी उनको नहीं आता।

जब विद्यार्थियों की वर्क बुक देखी तो वर्क बुक में जो शब्द लिखे गए थे वह भी बिल्कुल सही नहीं थे उसके बावजूद भी शिक्षकों द्वारा उनको जांच कर सही कर दिया गया। इससे प्रतीत होता है कि शिक्षक विद्यार्थियों के अध्ययन पर पूरी तरह ध्यान नहीं देते केवल मात्र खाना पूर्ति कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि संबंधित शिक्षकों और स्कूल के प्रिंसिपल को नोटिस देने के साथ ही उनके खिलाफ विधायक जाएगी तथा उच्च अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम