भीलवाड़ा

भीलवाडा विस उपचुनाव– भाजपा के बागी पितलिया ने डर कर छोडा मैदान, भाजपा को फिर भी नुकसान

Bhilwara ।भीलवाडा जिले की रायपुर-सहाडा विधानसभा क्षेत्र (Raipur-Sahada Assembly Constituency)  मे होने वाले उपचुनाव को लेकर कल नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि के 1 दिन पहले आज भाजपा (BJP ) और कांग्रेस (Congress)के नींद उड़ाने वाले भाजपा के बागी और निर्दलीय प्रत्याशी व्यवसाई लादू लाल पितलिया ((Ladu Lal Pitliya)) ने डर के कारण नामांकन पत्र वापस लेते हुए चुनाव मैदान छोड़ दिया है।

 

हालांकि पितलिया के चुनाव मैदान छोड़ने से भाजपा राहत की सांस ले रही है और मन ही मन खुश होकर सोच रही है कि अब हम यह सीट कांग्रेस से आसानी से छीन लेंगे लेकिन ऐसा संभव नहीं है पिछला के मैदान छोड़ने के बाद भी भाजपा की राह में कांटे बहुत है और कांग्रेस भितरघात होने के बाद भी इस सीट पर उन्हें अपना कब्जा बरकरार रखने में सफल हो सकती है ऐसी संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता ।

 

लादू लाल के नाम वापस लेने के चलते जहां एक तरफ भारतीय जनता पार्टी को सीधे तौर पर करीब 30,000 से ज्यादा मतों का फायदा होने की उम्मीद है तो दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी भितरघात होने के बाद भी अब कांग्रेस इस सीट पर एक बार फिर पुन अपना कब्जा बरकरार रखने मे कामयाब होती नजर आ रही है ।या यू कहे की अभी भी भाजप् और कांग्रेस के लिए राहे आसान नही है ।

 

लादू लाल के द्वारा दिसंबर 2018 में चुनाव लड़ा गया था तब उन्होंने इस विधानसभा सीट पर 30000 से अधिक मत प्राप्त किए थे, जिसका भाजपा को नुकसान उठाना पड़ा और कांग्रेस के कैलाश त्रिवेदी ने आजपा के रूप लाल जाट को 7004 मतो से हरा चुनाव जीत लिया था।

 

इससे पहले करीब डेढ़ महीने पहले ही लादू लाल भाजपा मे शामिल हुए थे, किंतु टिकट नहीं मिलने के कारण लादू लाल ने बगावत करते हुए 30 मार्च को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया था।

 

लादू लाल पिपलिया पर नामांकन दाखिल करने के साथ ही भाजपा के आला ने पितलिया की मान – मनवार शुरू कर दी की वह मैदान छोड दे लेकिन जब पितलिया अडे रहे तो कर्नाटक में भाजपा की सरकार ने पितलिया के कर्नाटक और बैंगलोर मे संचालित व्यवसायिक फर्मो पर छापे डलवा दिए और उन पर और उन पर दबाव डाला कि वह नामांकन वापस ले कर चुनाव मैदान छोड़ दें नहीं तो ….. इस धमकी से पितलिया के परिजन और भाई शांतिलाल सभी सहम गए तथा उन्होंने लादू लाल कृपया को मनाते हुए मैदान छोड़ने के लिए राजीव किया हालांकि पितलिया ने बेमन से चुनाव मैदान छोड़ जरूर दिया है लेकिन वह और उनके समर्थक इस दबाव का बदला लेंगे जिसका फायदा कांग्रेस को मिलेगा और कॉन्ग्रेस पार्टी में भितरघात होने के बाद भी बहुत कम अंतर से इस सीट को पुनः जीतने में कामयाब हो सकती है

 

 

विदित है कि भीलवाड़ा की सहाड़ा, राजसमंद की राजसमंद और चूरू जिले की सुजानगढ़ सीट पर उपचुनाव हो रहे हैं। सहाड़ा विधानसभा के कांग्रेस के विधायक कैलाश त्रिवेदी का कोरोना के कारण निधन हो गया था। इसी तरह से राजसमंद से भाजपा के विधायक किरण माहेश्वरी और सुजानगढ़ के कांग्रेस विधायक व मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल का भी कोरोना के चलते निधन हो गया था।

 

News Topic : Raipur-Sahada Assembly Constituency,BJP ,Congress,Ladu Lal Pitliya

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम