भीलवाड़ा में कोरोना को लेकर निजी चिकित्सालयों पर नकेल, नोड़ल व सहायक नोड़ल अधिकारी नियुक्त

CGST action on cloth traders in Bhilwara, theft of lakhs caught

Bhilwara News । भीलवाड़ा जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट एवं अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण  शिवप्रसाद एम. नकाते ने एक आदेश जारी कर बताया कि राज्य सरकार द्वारा जारी आदेश की अनुपालना में निजी चिकित्सालयों से बेहतर संवाद एवं समन्वय स्थापित करने व आमजन को सहज एवं सुलभ उपचार उपलब्ध कराने, कोविड उपचार हेतु उपलब्ध बेड्स की संख्या बढ़ाने व निजी चिकित्सालयों के समक्ष आने वाली समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए नोड़ल एवं सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए है।

नकाते ने बताया कि बृजेश बांगड़ मेमोरियल हाॅस्पीटल व कृष्णा हाॅस्पीटल,देवरिया बालाजी रोड़ के लिए पुष्करराज शर्मा सीईओ जिला परिषद को नोडल अधिकारी व डाॅ. घनश्याम चावला डिप्टी सीएमएचओ को सहायक नोड़ल अधिकारी नियुक्त किया गया है। तथा श्रीमती केसर बाई सोनी हाॅस्पीटल व अरिहन्त हाॅस्पीटल के लिए नन्दकिशोर राजोरा अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद को नोड़ल अधिकारी व डाॅ. संजीव शर्मा, अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सहायक नोड़ल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

वही रामस्नेही चिकित्सालय के लिए नोड़ल अधिकारी संजय शर्मा सचिव,यूआईटी व डाॅ. अशोक खटवानी प्रभारी अधिकारी जिला औषधी भण्डार को सहायक नोड़ल अधिकारी नियुक्त किया गया है। और श्री सिद्धी विनायक हाॅस्पीटल व पोरवाल हाॅस्पीटल के लिए त्रिलोक चन्द्र मीणा ,जिला रसद अधिकारी को नोड़ल अधिकारी व डाॅ. एन.के. शर्मा ब्लाॅक सीएमएचओ हमीरगढ़(सुवाणा) को सहायक नोड़ल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

नकाते ने निर्देश दिए कि निजी चिकित्सालयों हेतु नियुक्त नोड़ल अधिकारी एवं सहायक नोड़ल अधिकारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के आदेश की अक्षरतः पालना सुनिश्चित कराते हुए निजी चिकित्सालयों की कुल शैय्या क्षमता में से श्रेणीवार न्यूनतम 30 फीसदी बैड्स कोविड-19 मरीजो को उपलब्ध कराना, कोविड-19 संक्रमित मरीजो, राज्य स्तरीय मुख्यमंत्राी हेल्प लाईन 181 व जिला प्रशासन द्वारा रेफर किए गए मरीजो को हैल्प डेस्क के माध्यम से बेड्स उपलब्ध होने पर बेड उपलब्ध कराना व निजी चिकित्सालयों में कोविड-19 मरीजो का उपचार निर्धारित दरो पर ही किया जाना  सुनिश्चित करते हुए नियमित रूप से भ्रमण कर निर्धारित फाॅर्म मे प्रतिवेदन प्रभारी अधिकारी वाॅर रूम को भिजवा कर रिपोट प्रस्तुत करेंगे। प्रधारी अधिकारी वाॅर रूम से सभी सूचना प्राप्त कर संकलित सूचना का अनुमोदन करवा कर राज्य सरकार को भिजवाना सुनिश्चित करेंगे।