भीलवाड़ा कलेक्टर शिव प्रकाश नकाते अवैध अतिक्रमण के प्रति सख्त, स्वंय के सरकारी नव निर्माण तुडवाया

Bhilwara News । जिले के नवनियुक्त कलेक्टर शिव प्रकाश नकाते सैटबेक अतिक्रमण, अवैध निर्माण, नियम विरूद्ध निर्माण के सख्त खिलाफ है । इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है कलेक्टर के सरकारी बंगले का सैटबैक एरिया पर बने निर्माण जो नवनिर्मित था को तुडवा दिया । विदित है कलेक्टर के सिविल लाइन स्थित सरकारी बंगले पर संतरी व …

भीलवाड़ा कलेक्टर शिव प्रकाश नकाते अवैध अतिक्रमण के प्रति सख्त, स्वंय के सरकारी नव निर्माण तुडवाया Read More »

July 31, 2020 2:42 pm

Bhilwara News । जिले के नवनियुक्त कलेक्टर शिव प्रकाश नकाते सैटबेक अतिक्रमण, अवैध निर्माण, नियम विरूद्ध निर्माण के सख्त खिलाफ है । इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है कलेक्टर के सरकारी बंगले का सैटबैक एरिया पर बने निर्माण जो नवनिर्मित था को तुडवा दिया ।

विदित है कलेक्टर के सिविल लाइन स्थित सरकारी बंगले पर संतरी व सुरक्षा गार्ड के लिए बंगले पर प्रवेश करते ही दरवाजे के समीप बरसो से एक लकडी की केबिन थी जिसमे संतरी बैठते थे पूर्व कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट ने उस केबिन को हटवा दीवार को तुडवा कर उस केबिन की जगह वहां पक्का कमरा बनवा दिया ।

कमरे का निर्माण समापन पर था इसी दौरान उनका तबादला हो गया और 4 जुलाई को नवनियुक्त कलेक्टर शिव प्रकाश नकाते ने कार्य भार ग्रहण कर लिया । पूर्व कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट द्वारा बंगला (सरकारी आवास) खाली करने के बाद नकाते इसमै शिफ्ट हुए । शिफ्ट होने के बाद जब उन्होंने उस नव निर्माण के बारे मे पता किया और जांच पडताल की तो पता चला की सेटबैक पर ही यह निर्माण हुआ है ।

नकाते ने तत्काल उस पूरे नये निर्माण को तोडने के आदेश दिए और देखते ही देखते मजदूरो ने उस नवनिर्मित कक्ष को धराशाही कर दिये इसके पीछे उनका सोचना और मानना यह है की अगर कलेक्टर के आवास पर ही सैटबैक पर निर्माण है तो फिर सेटबैक पर अतिक्रमण करने वाले , अवैध अतिक्रमण करने वाले आमजन के खिलाफ कैसे कार्यवाही की जा सकेगी ।

शहर मे यूआईटी व नगर परिषद क्षेत्र मे है अवैध निर्माण

शहर मे दो स्वायत्तशाषी संस्थाएं यूआईटी और नगर परिषद है । इनमे अवैध अतिक्रमण।और अवैध निर्माण तथा सैटबैक पर अतिक्रमण की भरमार है । विशेषकर नगर परिषद मे तो हालत यह है की बिना सैटबैक छोडे, बिना निर्माण स्वीकृत लिए, बिना भू-उपयोग परिवर्तन कराए, बिना स्वीकृति के व्यवसायिक काॅम्पलेक्स बना लिए और बन रहे है जिसकी जानकारी और शिकायते नगर परिषद प्रशासन को लेकिन वह गांधी जी के बंदर कान, आंख व मुहं बंद कर बैठा है क्यो कही यहतो नही की ऐसे कार्यो की पिछे के दरवाजे से मौन स्वीकृति परिषद प्रशासन ने दी है ।

Prev Post

मुख्यमंत्री गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत व विधानसभा अध्यक्ष के मध्य हुई वार्तालाप का वीडियो जारी होने से सियासत गर्म

Next Post

558 साल बाद राखी पर अद्भूत संयोग क्या

Related Post

भीलवाड़ा में लघु उद्योग भारती की महिला इकाई का दो दिवसीय मेले शुरू, कई उत्पाद आकर्षण का केंद्र
September 27, 2022 8:30 pm

Latest News

राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस
राजस्थान सियासी घटनाक्रम के बीच कई मंत्री और विधायक पहुंचे सीएमआर, सीएम गहलोत से की मुलाकात

Trending News

केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस

Top News

राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस
मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास का बीजेपी पर आरोप सरकार गिराने का फिर हो रहा है षड्यंत्र
भीलवाड़ा में लघु उद्योग भारती की महिला इकाई का दो दिवसीय मेले शुरू, कई उत्पाद आकर्षण का केंद्र
September 27, 2022

भीलवाड़ा में बिजली चोरों की धरपकड़, 12 के खिलाफ कार्रवाई