भीलवाड़ा विस उपचुनाव– पितलिया ने समर्थकों को इशारा, कांग्रेस की राह आसान,ऑडियो सुने

Bhilwara ।राजस्थान में 3 विधानसभा सीटों पर चल रहे उपचुनाव को लेकर मेवाड़ के भीलवाड़ा जिले की रायपुर सहाड़ा विधानसभा सीट राजस्थानी नहीं पूरे देश में हॉट सीट बन गई है और लगातार भाजपा के बागी तथा व्यवसाय लादू लाल पितलिया के वायरल होते ऑडियो रिकॉर्डिंगों ने सियासत में आग लगा कर रखी है ।

एक और वायरल हुए ऑडियो में पितलिया नेअपने समर्थकों को इशारों ही इशारों में संकेत देकर कांग्रेस की राह आसान कर दी है । जबकि दूसरी और पितलिया सोशल मीडिया फेसबुक पर यह अपील कर रहे हैं कि मेरे अधिकृत संदेश को ही सही माना जाए । विधानसभा क्षेत्र में जब तक मतदान नहीं हो जाता तब तक रोजाना राजनीतिक समीकरण बदल रहे हैं।

भाजपा से बगावत कर टिकट नहीं मिलने पर व्यवसाय लादू लाल पितलिया ने अपनी जान का खतरा बताते हुए दक्षिण भारत के निजी सुरक्षा कमांडो के बीच अपना नामांकन दाखिल किया और उसके बाद घटे राजनीतिक घटनाक्रम तथा भाजपा के शीर्ष नेताओं की दबाव और धमकी के बाद नामांकन वापस लेने की और ऑडियो वायरल होने की खबरें अब तक काफी प्रसारित हो चुकी है ।

भाजपा ने जहां पितलिया पर दबाव बनाकर उसे चुनाव मैदान में भाजपा के पक्ष में मतदान करने के लिए जनसंपर्क के लिए तैयार किया लेकिन पितलिया ने भी तू डाल डाल मैं पात पात की तर्ज पर चलते हुए कांग्रेस के आला नेताओं तक संदेश पहुंचा कर स्वयं को कोरोना टेस्ट से पहले ही प्रशासन के माध्यम से होम क्वारटाइन करवा कर चुनाव प्रचार से दूरी बना ली।

राजस्थान में पहला उदाहरण

होम क्वारटाइन के दौरान राजस्थान में एक पहला उदाहरण है कि होम क्वारटाइन व कोरोना संदिग्ध रोगी के लिए प्रशासन और सरकार द्वारा बकायदा होमगार्ड के जवान सुरक्षा के लिए लगाए गए हैं ताकि होम क्वारटाइन पितलिया से कोई भी शक्स ना मिल सके

ऑडियो मे क्या कहा

दूसरी ओर पितलिया ने अपने समर्थकों से बातचीत की जिसमें समर्थकों द्वारा पितलिया से मार्गदर्शन मांगा गया कि अब हमें क्या करना है आपने तो चुनाव मैदान छोड़ दिया हमारे लिए क्या आदेश हैं इस पर दूसरी ओर से पितलिया अपने समर्थक को फोन पर कहते हैं कि मुझे तो भीलवाड़ा से लेकर बेंगलुरु तक किस तरह से परेशान किया गया यह सब कुछ मीडिया में आ चुका है और मुझे मजबूर होकर परिवार की रक्षा के लिए चुनाव मैदान छोड़ना पड़ा इस पर समर्थक कहता है कि कांग्रेस ने तो आपको परेशान नहीं किया है।

इस पर पितलिया कहते है हां का ने टरेशान नही किया इस पर समर्थक कहता है की इसका मतलब भाजपा के प्रत्याशी रतन लाल जाट के द्वारा ही यह सारी परेशानी पैदा कराई गई है और समर्थक इस पर यह भी कहता है कि फिर तो ठीक है ढाई साल गायत्री देवी कोई दे दिए जाएं इसके जवाब में पितलिया स्पष्ट ना बोलकर संकेत देते हैं कि आप देख ले और फोन काट दिया जाता है।

 

पितलिया और समर्थक का यह ऑडियो सोशल मीडिया पर एक बार फिर वायरल हो रहा है और इस ऑडियो के द्वारा तो यही संदेश माना जा रहा है कि पितलिया ने मौन रूप में अपने समर्थकों को कांग्रेस का सहयोग करने की मौन स्वीकृति दे दी है।

दैनिक रिपोर्टर डॉट कॉम पितलिया और उसके समर्थकों के इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है ।

लेकिन इस ऑडियो में एक बार फिर राजनीति में भूचाल ला दिया है।

भाजपा प्रत्याशी डाॅ जाट भी कर रहे है यह

दूसरी ओर भाजपा के प्रत्याशी डॉक्टर रतनलाल जाट भी जातिगत मतदाताओं को अपने पक्ष में अधिक फे अधिक मतदान के लिए मेवाड़ चौखला जिसमें भीलवाड़ा, राजसमंद, और उदयपुर के जाट समाज के पंच पटेलों को बुलाकर अलग-अलग बैठकें करवा कर जाट समाज के मतदाताओं को मनाया जा रहा है । अब देखना यह है कि जाट समाज का इन पंच पटेलों का और इन बैठकों के बाद क्या रुख रहता है ? जाट समाज के वोटों का ध्रुवीकरण होता है या नहीं ?