भीलवाड़ा में बेकाबू होते कोरोना संक्रमण को लेकर कलेक्टर नकाते हुए सख्त,उठाए यह कदम

Bhilwara।वस्त्र नगरी भीलवाडा मे कोरोना वायरस संक्रमण के बढते रोगी और बेकाबू होते वायलस को लेकर अब जिला कलक्टर शिवप्रसाद एम. नकाते पूरी तरह फे सख्ती और एकाशन के मूड मे आ गए है ।। कलेक्टर नकाते ने आज जिला कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना  के बढ़ते प्रकरणों पर रोकथाम लगाने हेतु गठित कोर ग्रुप की अहम बैठक ली ।

बैठक में जिला कलक्टर ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वर्तमान  परिदृश्य में कोविड-19 के बढ़ते प्रकरणों पर रोकथाम हेतु जिन निजी अस्पतालों की सेवाएं लेना सुनिश्चित किया गया था उक्त सभी अस्पतालों के नियुक्त  नोडल अधिकारी प्रतिदिन वहाँ भर्ती मरीजों, उपलब्ध बेड, ऑक्सीजन एवं उपचार हेतु चल रही दवाइयो की उपलब्धता इत्यादि का निरीक्षण करे ।

साथ ही उन्होंने बताया कि डोर टू डोर सर्वे हेतु प्रशासन द्वारा गठित टीम में डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ ,आशा सहयोगिनी नियुक्त किये गए हैं एवं सभी को दिशा निर्देश दिए गए हैं कि सर्दी ,बुखार के लक्षण वाले मरीजों को चिन्हित कर घर पर आइसोलेट कर उपचार हेतु दवाइयो का किट दिए जाएं एवं गंभीर मरीजों को निजी चिकित्सालय में भी भर्ती हेतु भेजा जाए ।

उन्होंने निजी अस्पतालों हेतु नियुक्त सभी नोडल अधिकारियों को  कोरोना संबधित प्रत्येक मुद्दों पर बारीकी से नजर रखने हेतु निर्देशित किया ।

साथ ही नकाते ने बैठक में मौजूद अधिकारियों से ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता ,बेड की संख्या बढ़ाने रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता, मेडिकल टीम की ड्यूटी सहित अन्य संबंधित अहम मुद्दों पर चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए ।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) राकेश कुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर)सुश्री वंदना खोरवाल, भीलवाड़ा उपखंड अधिकारी श्रीमती ओम प्रभा ,जिला चिकित्सा अधिकारी मुश्ताक खान , एमजी अस्पताल के पीएमओ डॉ अरुण गौड़ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण मौजूद रहे