भीलवाड़ा

भीलवाड़ा जिले का एक ऐसा गांव जहां ढाई साल से ग्रामीण पानी को तरस रहे

पंडेर/(पप्पू खंडेलवाल) पंडेर उप तहसील के ग्राम पंचायत गंधेर में बनास से लाइन दबी हुई लेकिन पानी नहीं सरकार ने हर गांव हर ढाणी में पानी पहुंचाने के लिए जिले में करोड़ों रुपए खर्च किए जा चुके हैं। लेकिन आलम यह है कि लोगों को शुद्ध पेयजल के लिए बनाई गई पानी टंकी कही गिर रही है तो कही लोगों को शुद्ध पेयजल ही नसीब नहीं हो रहा और पानी टंकी केवल शो पीस बनी हुई है।

इसी प्रकार जहाजपुर तहसील के ग्राम पंचायत गंधेर में बनास पेयजल से दो ढाई वर्ष पहले बिछाई गई पाइप लाइन का पानी गंधेर तक तो आ गया लेकिन टीठोड़ा माफी को बनास का पानी दो ढाई वर्ष से नसीब नहीं हुआ अब तो गंधेर में भी पानी आना बंद हो गया है ।

पीने के पानी की समस्या से टिटोडा माफी के सभी ग्रामवासी बहुत परेशान है गांव में हैंडपंप है लेकिन मीठा पानी नहीं होने की वजह से गांव वालों को बाहर से पानी लाने के लिय मजबूर होना पड़ रहा है । लाइन बिछाने के बाद टीठोडा गांव को मात्र 10 दिन पानी मिला उसके बाद आज तक गांव ने बनास का पानी तक नहीं देखा और सीमेंट से बनी हुई टंकी की सीढ़ियां भी गायब हो चुकी।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम