सरकारी स्कूल में घुसकर महिला प्रिंसिपल से मारपीट की कोशिश,डीईओ,सीबीईओ पर गंभीर आरोप

जहां एक और पूरा देश गणतंत्र दिवस मना रहा था तो दूसरी ओर स्कूल में भी गणतंत्र दिवस का समारोह चल रहा था और इसी दौरान कुछ बाहरी तत्व स्कूल में आकर महिला प्रिंसिपल के साथ गाली गलौज दुर्व्यवहार किया

Dr. CHETAN THATHERA
7 Min Read

भीलवाड़ा। भाजपा के शासन में सरकारी स्कूलों में शिक्षक और शिक्षिकाएं सुरक्षित नहीं है यहां तक की स्कूल की प्रिंसिपल तक भी सुरक्षित नहीं है ऐसा ही एक घटनाक्रम भीलवाड़ा जिले से हाल ही में अलग होकर नवगठित शाहपुरा जिले के बनेड़ा क्षेत्र में घटित हुआ ।

जहां एक और पूरा देश गणतंत्र दिवस मना रहा था तो दूसरी ओर स्कूल में भी गणतंत्र दिवस का समारोह चल रहा था और इसी दौरान कुछ बाहरी तत्व स्कूल में आकर महिला प्रिंसिपल के साथ गाली गलौज दुर्व्यवहार किया और मारपीट करने की कोशिश की ।

इस संबंध में स्कूल की प्रिंसिपल द्वारा शिक्षा अधिकारी मुख्यालय शाहपुरा और मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बनेड़ा को लिखित और मौखिक सूचना देने के बाद भी दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय डीईओ व सीबीईओ द्वारा उल्टा प्रिंसिपल पर आरोपियों से समझौता करने का दबाव बनाया जा रहा है इससे परेशान होकर प्रिंसिपल ने शाहपुरा जिला कलेक्टर को लिखित में शिकायत कर न्याय और सुरक्षा की मांग की है ।

बनेडा उपखंड के सरदार नगर गांव में स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सरदारनगर की प्रिंसिपल( पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी) श्रीमती अंशु वर्मा (जो विधवा है) ने शाहपुरा जिला कलेक्टर टीकम बोहरा को एक लिखित शिकायत दी है। इस शिकायत में उन्होंने बताया कि गणतंत्र दिवस के दिन स्कूल में समारोह चल रहा था ।

इस समारोह के दौरान गांव के राजकुमार माली,सरताज खां, जाकिर सत्यनारायण माली आदि स्कूल आते हैं और आते ही वह लोग उसे गाली गलौज तथा अभद्र व्यवहार करने लग जाते हैं यहां तक की इन लोगों ने उसके साथ मारपीट और धक्का मुक्की तक की।

रिपोर्ट में पीड़िता प्रिंसिपल ने बताया कि सरदारखां पंचायत सरदारनगर में ई मित्र संचालक है और इन आरोपियो में से किसी का भी बच्चा इस स्कूल में नहीं पड़ता है । उसने जून 2023 में ही यहां पर कार्यभार संभाला है उससे पहले से उसे सभी कैसे बुक को स्टाॅक का चार्ज दिया नहीं और 2019 से ही इनको संधारित नहीं किया गया था।

इस संबंध में उसने मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बनेड़ा और जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक शाहपुरा को बार-बार लिखित व मौखिक में अवगत कराया जा चुका है ।

परंतु चार्ज अभी भी पर्याप्त है। ग्रामीण राजकुमार माली द्वारा बार-बार पिछले 4 वर्षों का हिसाब मांगने आए दिन विद्यालय में आकर उसे डरता धमकता है और संपर्क पोर्टल पर तथा आरटीआई के द्वारा दबाव बनाकर उसे डराया जाता है और राजकुमार माली, सरताज खां, जाकिर और सत्यनारायण माली ने गणतंत्र दिवस के दिन समारोह के दौरान जाकर उसके साथ गाली गलौज मारपीट कर कार्यक्रम व राज कार्य में विघन डाला।

रिपोर्ट में प्रिंसिपल अंशु वर्मा ने बताया कि जब इस संबंध में उसने जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक शाहपुरा को और ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बनेड़ा को अवगत कराया।

तो उल्टा जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक मुख्यालय शाहपुरा ने और ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बनेड़ा ने उस पर दबाव डाला कि वह राजकुमार माली, सरताज खां, जाकिर और सत्यनारायण माली से समझौता कर ले ।

खेल मैदान पर प्राइवेट खेल एकेडमी संचालित

रिपोर्ट में प्रधानाचार्य ने बताया कि विद्यालय को खेल मैदान के लिए तीन बीघा जमीन सरकार द्वारा आवंटित है।लेकिन विद्यालय के खेल मैदान में प्राइवेट क्रिकेट अकादमी खोल रखी है और विद्यालय के शारीरिक शिक्षक शिव शंकर जाट मुकेश माली गांव के राजकुमार माली और उक्त आरोपियों के साथ मिलकर विद्यालय समय में ही विद्यालय के खेल मैदान में प्राइवेट क्रिकेट प्रतियोगिताएं करवाई जाती है तथा लाइट माइक अनाउंस स्कूल की लाइट से की जाती है।

जिससे छात्रों की पढ़ाई में व्यवधान पड़ता है तथा विद्यालय की कमरे भी बाहर से आई क्रिकेट टीम के लोगों को ठहराने के लिए विद्यालय स्टाफ को डरा धमका कर लिए जाते हैं। विद्यालय में छात्राएं भी पड़ती है।

इससे उनकी सुरक्षा को खतरा है यही नहीं विद्यालय के खेल मैदान में गाय मवेशी भी छोडे (चरने के लिए)जाते हैं इस पर उसने मना किया तो उसको डराया धमकाया गया इस संबंध में भी उसने अतिरिक्त जिला कलेक्टर शाहपुरा को 7 अक्टूबर 2023 को शिकायत की थी।

स्कूल की बिजली से प्राइवेट मैच

प्रिंसिपल ने रिपोर्ट में बताया कि विद्यालय की बिजली के मीटर से बिजली लेकर रात को फ्लड लाइट चला कर प्राइवेट मैच करवाए जाते हैं जिससे बिजली का बिल पिछले कुछ माह से बहुत ज्यादा विद्यालय को भुगतना पड़ रहा है इस विषय में सरपंच को अवगत कराया गया जा चुका है परंतु कोई कार्रवाई नहीं हुई।

रिपोर्ट में प्रिंसिपल ने बताया कि उस पर लगातार दबाव बनाने और धमकाने के कारण वह मानसिक प्रताड़ना झेल रही है और एक एकल व विधवा महिला होने से उसे मानसिक और शारीरिक प्रताडना दी जा रही है उसे न्याय देकर सुरक्षा की जाए व आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए

इनकी जुबानी

मैंने कलेक्टर साहब को 1 फरवरी 2024 को यह शिकायत की उसके बाद मुझ पर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक शाहपुरा और ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बनेड़ा द्वारा आरोपियों के साथ समझौता करने और कलेक्टर को दी रिपोर्ट वापस उठाने का दबाव बनाया जा रहा है तथा उल्टा मेरे खिलाफ जांच करवाई जा रही है।

श्रीमती अंशु वर्मा

 प्रधानाचार्य राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सरदार नगर बनेड़ा

मैं इस संबंध में सीईओ बनेड़ा को आदेश देकर पाबंद किया है कि इस मामले में जांच करें और मेरे पर जो दबाव बनाने का जो आरोप लगाया जा रहा है वह गलत है ।

रामेश्वर बाल्दी 

 जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक मुख्यालय शाहपुरा

मुझे इस संबंध में शिकायत मिली है और मैं इस घटनाक्रम को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक मुख्यालय को फटकार भी लगाइए तथा मैने उपखंड अधिकारी बनेड़ा और थाना प्रभारी को इस मामले में कार्रवाई के लिए अवगत करा दिया है।

टीकमचंद बोहरा

 जिला कलेक्टर शाहपुरा

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम