भीलवाड़ा जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष मोदी की चुनाव मे अनूठी पहल 

Dr. CHETAN THATHERA
5 Min Read

भीलवाड़ा/ लोकतंत्र के महापर्व में मतदाताओं को ज्यादा से ज्यादा संख्या में वोट के लिए प्रेरित करने और चुनाव की प्रक्रिया को सरल करने लिए चुनाव आयोग नई तकनीकों का सहारा ले रहा है। चुनाव आयोग द्वारा बनाए गए विभिन्न एप मतदाताओं और निर्वाचन कार्यों में लगे कार्मिकों के लिए कारगर साबित हो रहे हैं।

आगामी विधानसभा चुनाव 2023 में निर्वाचन विभाग द्वारा मतदान प्रतिशत बढ़ाने और अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए आमजन को हर सुविधा दी जा रही है। इसके साथ ही चुनाव संबंधी व्यवस्थाओं का भी सरलीकरण किया जा रहा है। जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष मोदी द्वारा भीलवाड़ा जिले में नवाचार के तहत बनाई गई 4 एप्लीकेशन ‘सहज एप, सकल एप, सुगम एप और संपर्क एप’ से नई तकनीक का इस्तेमाल कर चुनाव प्रक्रिया को मतदाताओं के साथ निर्वाचन कार्यों में लगें कार्मिकों के लिए सुगम और प्रभावी बनाया जा रहा हैं ।

’सहज एप’

मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री प्रवीण गुप्ता द्वारा लॉन्च किए गए ‘‘सहज एप’’ के माध्यम से बीएलओ द्वारा फॉर्म भरने से लेकर, फॉर्म की स्वीकृति/अस्वीकृति और आरओ द्वारा शेड्यूलिंग/री-शेड्यूलिंग तक होम वोटिंग की पूरी प्रक्रिया की निगरानी करने और वास्तविक समय में मतदान की प्रगति की निगरानी करने के लिए एप्लिकेशन कारगर सिद्ध हो रही हैं। सहज एप फॉर्म भरने का जीपीएस स्थान, वोट डालने का जीपीएस स्थान और मतदाता के साथ बीएलओ/मतदान दल की तस्वीरें भी कैप्चर करता है।

यह एप्लिकेशन 80 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक और 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाले ’अनुपस्थित मतदाताओं’ द्वारा घर पर मतदान की पूरी प्रक्रिया की निगरानी करने में कारगर सिद्ध हो रही हैं। इसके अलावा, यह एप्लिकेशन ’एसएमएस इंटीग्रेशन’ के माध्यम से मतदाताओं को फॉर्म जमा करने, फॉर्म अस्वीकृत/स्वीकृत होने, शेड्यूलिंग, री-शेड्यूलिंग, वोट डालने आदि जैसी प्रक्रिया के प्रत्येक चरण में मतदाताओं को एसएमएस के माध्यम से सूचित करता है।

’सकल एप’

इस एप्लिकेशन का उद्देश्य हर दो घंटे में मतदान केंद्र-वार वास्तविक समय में मतदान प्रतिशत रिकॉर्ड करना है। इस एप के माध्यम से मतदान की शुरुआत के साथ प्रत्येक दो घंटे में सुबह 9 बजे, सुबह 11 बजे, दोपहर 1 बजे, दोपहर 3 बजे, शाम 5 बजे, मतदान की समाप्ति तक का डेटा संग्रहित किया जाएगा। इसके अतिरिक्त इस एप के डाटा के माध्यम से कम मतदान प्रतिशत वाले क्षेत्रों को चिन्हित् किया जा सकता है जिससे ऐसे क्षेत्रों में मतदान में बढ़ोतरी के लिए मतदान के दिन समय पर ’लक्षित बूथ स्तरीय स्वीप गतिविधियां करवाकर मतदाताओं को मतदान केन्द्र पर लाया जा सके। 

’सुगम एप’

यह एप्लिकेशन मतदान दल के प्रस्थान के समय मतदान दलों की उपस्थिति दर्ज करने में मदद करता है। मतदान दलों की सूची तीसरे रैंडमाइजेशन के बाद एप्लिकेशन पर अपलोड की जाती है और मतदान दलों को मतदान केंद्र के विवरण के बारे में सूचित किया जाता है जहां उन्हें प्रस्थान के दिन सुबह 5 बजे ’चुनाव ड्यूटी’ के लिए पहुंचना होता है। प्रस्थान के समय, मतदान दल सीधे अपने लिए आरक्षित स्थान पर बैठ सकता है (बिना किसी से पूछे) और उपस्थिति लेने वाला कार्मिक आईटी एप्लिकेशन के माध्यम से उस स्थान पर इसे अंकित कर सकता है जहां मतदान दल बैठा है। 

इस एप के माध्यम से मतदान दलों के प्रस्थान के दिन ’अनुपस्थित कर्मियों’ के संबंध में वास्तविक समय में रिपोर्ट तैयार की जा सकती है और अनुपस्थित कर्मियों की किसी भी संभावना को समाप्त किया जा सकता है। इसके द्वारा उपस्थिति लेने की प्रक्रिया में लगे विभिन्न कर्मियों के बीच अच्छा तालमेल स्थापित किया जा सकता है। 

संपर्क एप

इस एप्लिकेशन का उद्देश्य मतदान केंद्र से संबंधित सभी अधिकारियों/कर्मियों जैसे बीएलओ, सेक्टर अधिकारी, पटवारी, बीट-कांस्टेबल, एसएचओ, बीडीओ, तहसीलदार, वेबकास्टिंग अधिकारी, एसडीएम, आरओ, डीईओ, एसपी आदि का विवरण (नाम, पदनाम, मोबाइल नंबर आदि) मतदान दलों को एसएमएस के माध्यम से प्रदान करना है, साथ ही मतदान केंद्र स्तर तक सभी हितधारकों के बीच सुचारू संचार प्राप्त करना है।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम