भीलवाड़ा में संगठित बजरी माफिया गिरोह का खुलासा, दो गिरफ्तार

स्पेशल टास्क फोर्स टीम की कार्यवाही, अब कई चेहरे होंगे बेनकाब, किसी नही बख्शा जाएगा-अतहर

Bhilwara News( मूलचन्द पेसवानी )- भीलवाड़ा जिले मे अवैध बजरी दोहन और बजरी माफियों पर लगाम कहने के लिए 4 दिन पूर्व जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट के निर्देश पर एसडीएम बदनोर अतहर आमिर खान (आईएएस) के नेतृत्व में गठित संयुक्त स्पेशल टीम ने जिले मे फैले संगठित बजरी माफिया गिरोह तक पहुंचने मे सफलता हासिल करते हुए दो जनो को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनो की गिरफ्तार के बाद पूछताछ मे कई बडे खुलासे होने तथा कई चेहरे बेनकाब होने की संभावना है। स्पेशल टीम के प्रभारी अतहर आमिर खान (आईएएस) ने आज मीडिया से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी ।

उन्होने बताया की यह संगठित गिरोह मोबाइल व्हाइट अप ग्रुप बनाकर पुलिस, माइंनिग, की धरपकड़ टीम की रेकी करते और इन दोनो ग्रुप से आगे – से आगे सूचनाएं देते ताकी टीम पहुंचने से पहले ही माफिया वहां से निकल जाते थे । इनसे अब तक 15 ट्रेक्टर और 3 डंपर जब्त किए है और कार्यवाही जारी रहेगी। अतहर ने कहा की इन बजरी माफियो को किसी भी सूरत मे बख्शा नही जाएगा चाहे वह कितना ही बडा ओहदे वाला हो।

ऐसे बना रखे थे ग्रुप-जयमहाकाल के नाम से बना था ग्रुप जिसमे 150 सदस्य थे और दूसरा भाई-भाई का प्यार नाम से बना था ग्रुप जिसमे 219 सदस्य थे। जय महाकाल व्हाटस अप ग्रुप के एडमिन राधेश्याम पुत्र भिक्षु गुर्जर निवासी भवानी नगर भीलवाड़ा तथा भाई-भाई व्हाइट अप ग्रुप के एडमिन प्रकाश पुत्र अशोक शर्मा निवासी उपनगर पुर । यह बजरी माफिया माइंनिग विभाग, के बाहर थाने के बाहर इनका एक सदस्य बाइक पर खडा रहता था और जैसे ही टीम बाहर निकलती वह फोलो करता एक निश्चित स्थान तक फार वहां से दूसरा फार तीसरा इस तरह यह नेटवर्क काम कर रहा था । इस नेटवर्क मे काम करने वाले को 9000 हजार रूपये देते थे ।

टीम प्रभारी अतहरआमिर खान ने बताया की कोई भी आम जन अगर कहीं भी अवैध बजरी का दोहन हो रहा है या अवैध बजरी के ट्रेक्टर या डंपर जा रहे है तो तत्काल वह 95878-61786, 89468-66962 , 98879-79147 मोबाइल नंबर पर दे सकते है। स्पेशल टीम प्रभारी अतहर आमिर खान ने बताया की अगर कोई खातेदारी जमीन पर भी बिना साइंसेस के बजरी का अवैध दोहन हो रहा है तो उस खातेदार के खिलाफ भी माइनिंग एक्ट सीआरपीसी के तहत कार्रवाई होगी