मेवात क्षेत्र में ऑन लाईन ठगी करने वाले संगठित गिरोह का खुलासा किया

  सरगना सहित तीन गिरफ्तार, भारी मात्रा में ठगी के अपराध से जुडी संदिग्ध सामग्री बरामद   जयपुर(राजेन्द्र जती)। भरतपुर जिला पुलिस ने महत्वपूर्ण सफलता हासिल करते हुए मेवात क्षेत्र में ऑन लाईन ठगी करने वाले संगठित गिरोह का फर्दाफास कर गिरोह के सरगना सहित तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में ठगी के …

मेवात क्षेत्र में ऑन लाईन ठगी करने वाले संगठित गिरोह का खुलासा किया Read More »

October 8, 2018 5:44 pm

 

सरगना सहित तीन गिरफ्तार, भारी मात्रा में ठगी के अपराध से जुडी संदिग्ध सामग्री बरामद

 

जयपुर(राजेन्द्र जती)। भरतपुर जिला पुलिस ने महत्वपूर्ण सफलता हासिल करते हुए मेवात क्षेत्र में ऑन लाईन ठगी करने वाले संगठित गिरोह का फर्दाफास कर गिरोह के सरगना सहित तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में ठगी के अपराध से जुडी संदिग्ध सामग्री बरामद की है ।

पुलिस अधीक्षक भरतपुर केसर सिंह शेखावत ने बताया कि देश भर में ऑन लाईन ठगी के नाम पर कुख्यात मेवात क्षेत्र में संगठित आपराधिक गिरोह के सम्बंध में आसूचना संकलित कर कार्ययोजना तैयार करने हेतु एक विशेष टीम का गठन कर अपराध में संलिप्त आपराधिक तत्वों, उनके वारदात करने के तरीको, कार्यक्षेत्र व सहयोगियों के सम्बंध में जानकारी एकत्रित करवाये जाने पर यह तथ्य उजागर हुआ है कि मेवात क्षेत्र के अनेक गांवों विशेष रूप से झेंझपुरी, घडी, झीलपट्टी, ओलन्दा, खेडा, घोघोर, पालीकी, गांवडी, पथराली, नौगांव, सबलाना, विलग, विरार, लेवडा, टायरा, उदाका तथा सीमावर्ती राज्य के नूॅंह मेवात जिले के अनेक गांवों सहित मथुरा जिले के हाथिया में मोबाईल, वाहन, इंटीरियर डेकोरेषन, होटल व्यवस्था एवं हैकर्स आदि से जुडे मामलों में विभिन्न तरीकों के माध्यम से ऑन लाईन ठगी का कारोबार चरम पर है, जिसमें नाबालिग बच्चों सहित अनेक आपराधिक गिरोह इस कारोबार को संगठित रूप से अंजाम दे रहे हैं।

शेखावत ने बताया कि आसूचना संकलन के दौरान यह तथ्य सामने आया है कि ऐसी ऑन लाईन ठगी के अपराध के मूल में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर प्राप्त की गई सिम का कारोबार है ऐसी सिमों के साथ पेटीएम कनेक्शन भी लिंक होता है और इन्हीं सिमों का प्रयोग इस ठगी के धंधे में होता आया है।

जांच एजेन्सीज को प्रकरण के खुलासे में काफी परेषानी आती है, क्योंकि जिस व्यक्ति के द्वारा ऐसे अपराध को अंजाम दिया जाता है, उसके द्वारा अपनी कोई वास्तविक आईडी या पहचान का दस्तावेज काम में नहीं लिया जाता।

उन्होंने बताया कि विगत दिनों मेवात क्षेत्र में उनके नेतृत्व में डीग क्षेत्र के समस्त थानों की टीम द्वारा पडाव देकर की गई सघन जांच पडताल के दौरान फर्जी सिम सप्लायर के तौर पर घघवाडी थाना कैथवाडा निवासी अब्दुल मोमिन का नाम मुख्य रूप से सामने आया ।

जिसका सम्पर्क गोपालगढ इलाके के रमन व ओलन्दा निवासी जावेद सहित अनेक लोगों से पाया गया, जिनके द्वारा अब तक फर्जी सैकड़ों सिम ऑंन-लाईन ठगी के करोबार में लिप्त अपराधियों को वितरित की गई ।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ठगी से जुडे इस करोबार को जड़-मूल से समाप्त करने के उदेद्ष्य से वृताधिकारी कामां व डीग के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा अब्दुल मोमिन पुत्र बसीर मेव (20), जावेद पुत्र अकबर मेव (23) व रमन पुत्र पूरन जाटव को गिरफ्तार किया गया है, जिनके कब्जे से अब तक दो बैग, एक लैपटॉंप मय माउस, 4 फिंगर प्रिन्टर मशीन, 12 मोबाईल फोन, 17 बैक पासबुक, 12 ए0टी0एम0, 4 पीटीएम के एटीएम, 5 चैक बुक, 8 भामाशाह कार्ड, 4 हिसाब की कॉंपी, 1 परिचय पत्र (दिल्ली क्राइम प्रेस), 105 रैपर मय सिम, 265 सिम खुली, 11 बिल बाउचर, अन्य व्यक्तिओं के 22 फोटो, 1 डाटा कार्ड, 1 चार्जर आदि बरामद हुए हैं।

अभियुक्तों के विरूद्ध थाना कैथवाडा पर प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है।

Prev Post

सीएम के बैनर पर यह गंदा काम करते देखे गए उनके विश्वस्त

Next Post

तनुश्री को नाना का जवाब कहा 10 सालो मे कुछ नहीं बदला

Related Post

Latest News

पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन.. 
Rural Olympic Games - Innovative brilliant initiative of Bhilwara Collector Modi
राजस्थान में PFI पर शिकंजा कसने के कलेक्टर व एस पी को दिए अधिकार, पदाधिकारी भूमिगत
गहलोत नही लडेंगे चुनाव, सिंह कल भरेंगे नामांकन,राजस्थान पर फैसला आज