भरतपुर

राजस्थान में इस थानेदार ने एडिशनल डीसीपी की जमकर पिटाई, कहां पढ़ें ख़बर

Bharatpur News / राजेन्द्र शर्मा जती। भरतपुर की सेवर थाना पुलिस के एक अदने से थानेदार ने बीती रात धौलपुर के तत्कालीन अतिरित पुलिस अधीक्षक तथा बर्तमान में जयपुर कमिश्नरेट के एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र खोत के साथ अपने थाना क्षेत्र की मलाह पुलिया पर कर डाली ऐसी राठौड़ी कि बचने के लिए डीसीपी को जयपुर के पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव तक ठोकनी पड़ी दुुहाई। एडिशनल डीसीपी के  साथ इस थानेदार की राठौड़ी थी इतनी अधिक हाईपावर कि उन्हें बचाने के लिए पुलिस अधीक्षक देवेंद्र बिश्नोई को रात 12 बजे बिस्तर छोड़कर खुद पहुचना पड़ा मोके पर तब कही जाकर एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र खोत तथा उनके साथियों को छुड़ाया जा सका थानेदार  की राठौड़ी से। बीती रात घटी इस घटना के बाद पुलिस महकमे में थानेदार  की राठौड़ी से सभी है हक्केबक्के। मामले को लेकर रेंज आईजी प्रसन्न कुमार का है कहना कि एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र खोत के साथ सेवर थाने के सहायक उपनिरीक्षक राधाकिशन, कांस्टेबल महेंद्र सिंह, प्रेम सिंह ब सेवर थाने की जीप के चालक हिम्मत सिंह की हुई थी कहासुनी जिसे निपटाने के लिए मोके पर भेजा गया पुलिस अधीक्षक को। मामले की जाँच के दिये गए है आदेश। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एडीएफ) करेंगे मामले की जाँच। जांच में दोषी पाए जाने पर की जाएगी कार्यवाही। इस मामले में हालांकि एस पी देवेन्द्र विश्नोई ने इस घटना को स्वीकारते हुये कुछ भी बताने पर चुप्पी साधी है।

। प्राप्त सूत्रों की माने तो सहायक उपनिरीक्षक राधाकिशन, कांस्टेबल महेंद्र सिंह, प्रेम सिंह ब सेवर थाने की जीप के चालक हिम्मत सिंह को बीती रात 11 बजे मलाह पुलिया पर सादा बर्दी में मिले एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र खोत। गर्मागर्मी से शुरू हुई बातचीत के दौरान ही थानेदार  सहित उनकी टीम ने छोड़ दिये हाथ। दोनो तरफ से जमकर हुई गुत्थमगुत्था के बीच ही थानेदार  ने बुला लिया बताया अतिरिक्त पुलिसजाप्ता और फिर थानेदार ने दिखाई जो राठौड़ी उसकी चीखे पहुची जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव तक। । एडिशनल डीसीपी खुद के एएसपी होने की  दुहाई देते रहे आईकार्ड दिखाने पर भी नही माने थानेदार  ब उनकी टीम राठौड़ी से। बताया जाता है कि आनन्द श्रीवास्तव तक जब पहुची एडिशनल डीसीपी की पुकार तो श्रीवास्तव ने किया भरतपुर आईजी प्रसन्न कुमार खमेसरा को फोन। बाद में  खमेसरा ने मौके पर भेजा पुलिस अधीक्षक देवेंद्र कुमार विश्नोई को जिन्होंने रात्रि को ही मौके पर जाकर एएसपी को छुड़ाया सेवर पुलिस की राठौड़ी से। और इस तरह से हुआ सेवर पुलिस की इस सनसनीखेज राठौड़ी का पटाक्षेप। जयपुर से धौलपुर शहादत पर जा रहे थे एएसपी हैं राजेन्द्र खोत। आईजी प्रसन्न खमेसरा ने बताया कि एएसपी द्वारा पहचान बताने के बाद भी क्यो हुआ ऐसा घटनाक्रम। गलतफहमी में या जानबूझकर ये जांच रिपोर्ट में पता चल पाएगा।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम