पुलिस द्वारा धमका कर समय से पूर्व बाजार बंद कराने को लेकर व्यापारियों मे आक्रोश, मंत्री का कराया अवगत कलेक्टर को दिया ज्ञापन

Bharatpur/ राजेन्द्र शर्मा जती। जिला व्यापार महासंघ की एक आपात बैठक मोहित क्लाॅथ स्टोर पर जिलाध्यक्ष संजीव गुप्ता की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में
कोरोना महामारी के बढते प्रकोप को देखते हुए प्रशासन द्वारा नई गाइड लाइन की पालना के तहत कल सांय पुलिस द्वारा गलत तरीके से दुकान बंद कराने के प्रयास व धमकी भरे अंदाज में दुकानदारों को प्रभावित करने की निंदा की गई।

आदेशों में रात्रि 8 बजे से प्रातः 6 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है जवकि पुलिस वाले 7 बजे से ही दुकान बंद करवाने लगे। नगर निगम द्वारा लाउड स्पीकर पर प्रचार के तहत दुकानों को सीज करने को भी व्यापारियों ने अनुचित बताया तथा कहा कि यह भाषा ठीक नहीं है।

 

बैठक में व्यापारियों ने हमेशा प्रशासन का सहयोग करने की बात कही, वह कोरोना महामारी को काफी गंभीरता से लेते हैं जवकि अन्य क्षेत्रों में ऐसा नहीं देखा गया है वहां भारी भीड जमा रहती है फिर भी उनके खिलाफ कार्यवाही नहीं होती है।

 

महासंघ ने व्यापारियो ंने कोरोना में सतर्कता बरतने की अपील की तथा ग्राहकों से भी मास्क लगाने तथा 2 गज की दूरी रखने का आग्रह किया है।

 

जिला व्यापार महासंघ के अध्यक्ष संजीव गुप्ता ने बताया कि बैठक में चिकित्सा राज्य मंत्री डा. सुभाष गर्ग से भी फोन पर वार्ता की गई। उन्होंने जिला कलक्टर से मिलने को कहा। उसके बाद व्यापार महासंघ का एक प्रतिनिधि मण्डल जिलाध्यक्ष संजीव गुप्ता की अध्यक्षता में जिला कलक्टर नथमल डिडेल से मिला तथा उन्हें प्रशासन द्वारा गाइड लाइन के तहत उसके विपरीत जल्दबाजी में पुलिस द्वारा जबरन 7 बजे से ही दुकानों को बंद कराने व धमकी भरी भाषा का इस्तेमाल करने की बात कही जिस पर जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने नाराजगी जाहिर करते हुए आगे से ऐसा नहीं होने दिया जायेगा तथा
व्यापारियों से आगे के लिए थोडी सतर्कता बरतने की बात कही तथा पुलिस के व्यवहार को अनुचित बताया। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने ढावा होटल वालों को 10 बजे तक की छूट भी देने की बात कही तथा ट्रासपोर्ट वालों को दुकानदारों का सामान दोपहर 1 बजे से 4 बजे तक पहुॅचाने की छूट देने की बात को मानते हुए टी.आई. को निर्देश देने की बात कही।

 

नगर निगम के सामने मटका आदि बेचने वालों से रास्ते में आने वाली समस्या के समाधान की बात रखी जिसका समाधान निकाला जायेगा।