प्रदर्शन कर रहे व्यक्ति को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दी गालियां, सामाजिक कार्यकर्ता चंबल के पानी के लिए कर रहा था विरोध

Bharatpur News / राजेन्द्र शर्मा जती।भरतपुर के कामां में मंगलवार को एक सामाजिक कार्यकर्ता को विरोध करना भारी पड़ गया। सामाजिक कार्यकर्ता विजय मिश्रा चंबल के पानी को लेकर सड़क पर प्रदर्शन कर रहा था।

इतने में पुलिस और कुछ कांग्रेस के लोग मौके पर पहुंचे और सामाजिक कार्यकर्ता द्बारा किए जा रहे विरोध को रुकवा दिया इसके अलावा लोग कामां सीओ और पुलिस के सामने सामाजिक कार्यकर्ता को गलियां देने लगे। जिसका एक वीडियो सामने आया है। जहां पुलिस तमाशबीन बने खड़ी हुई है और गलियां देने वाले लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही।

इस बारे में जब सामाजिक कार्यकर्ता विजय मिश्रा से बात की तो उन्होंने बताया की विधायक ने वादा किया था की सितंबर 2021 तक कामां के लोगों को चंबल नदी का पानी मिल जाएगा लेकिन अभी तक कामां के लोगों को चंबल का पानी नहीं मिल पाया। जिसके विरोध में आज विजय मिश्रा अकेले सड़कों पर निकले उनके आगे चल रहे दो व्यक्तियों के हाथ में एक बैनर लगा हुआ था।

जिस पर लिखा था की विधायक जी चंबल का पानी सीकरी तक पहुंच गया कामां में कब आएगा दोनों व्यक्तियों के पीछे सामाजिक कार्यकर्ता विजय मिश्रा एक साइकिल लेकर चल रहे थे। साइकिल पर कुछ पानी की बोतलें लटकी हुई थी और उनके गले में चंबल के पानी की मांग को लेकर एक तख्ती लटकी हुई थी।

विजय मिश्रा ने बताया इतने में कामां सीओ प्रदीप यादव पुलिस जाब्ते के साथ बाजार में पहुंचे और उन्हें वहां प्रदर्शन करने से रोक दिया। प्रदीप मिश्रा उन्हें समझा ही रहे थे की इतने में कुछ लोग आये और वह विजय मिश्रा को पीटने को उतारू हो गए और उन्हें गंदी गंदी गालियां देने लगे। लोग उन्हें गलियां देते रहे और पुलिस खड़ी-खड़ी तमाशा देखती रही।

जिसके बाद माहौल को गर्म होते देख विजय मिश्रा वहां से चले आये विजय मिश्रा ने बताया की गलियां देने वाले लोगों में नगर पालिका के पार्षद सहित कई कांग्रेस के कार्यकर्ता थे। इस घटना का वीडियो वहां मौजूद एक व्यक्ति ने अपने कैमरे में कैद कर लिया। जो वायरल हो रहा है।