भरतपुर में ज़िला अग्रवाल महासभा की बैठक में नहीं शामिल हुए मंत्री गर्ग, तीन बार विधायक रहे बंसल शामिल हुए, राजनीति कानाफूसी शुरु

Minister Garg did not attend the meeting of District Agarwal Mahasabha in Bharatpur, three times MLA Bansal attended, politics started whispering

भरतपुर (राजेंद्र शर्मा जती )। भरतपुर में जिला अग्रवाल महासभा की जिला कार्यकारिणी एवं सभी तहसीलों के प्रमुख पदाधिकारियों की हुई बडी बैठक में पूर्व विधायक विजय बंसल के पूरे समय बैठक में मौजूद रहने एवं राज्यमत्री डॉ. सुभाष गर्ग के भरतपुर में ही होने के बाद भी इस बैठक में शामिल नहीं होने पर राजनीतिक चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है।

लोगों का मानना है कि तीन बार भरतपुर विधायक रहे विजय बंसल की ओर इस बार वैश्य समाज का झुकाव बढने लगा है।

जिला अग्रवाल महासभा के अध्यक्ष अनुराग गर्ग ने बताया कि बैठक में राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग और पूर्व विधायक विजय बंसल को आमंत्रित किया गया था।

मंत्री गर्ग भरतपुर में ही रहकर अनेक कार्यक्रम में पहंुचे थे लेकिन अग्रवाल महासभा की बडी जरूरी बैठक में शामिल होने के लिए समय नहीं निकाल पाए। जबकि पूर्व विधायक विजय बंसल पूरे कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहे।

राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग की अग्रवाल समाज के कार्यक्रम में अनुपस्थिति ने उनके भरतपुर विधानसभा के आगामी चुनावों पर चुनावी तैयारियों पर सवाल उठाए जा रहे हैं।

आगामी वर्ष 2023 में विधानसभा के चुनाव होने हैं भले ही चुनावों में एक वर्ष का समय बाकी है लेकिन सभी पार्टियों के द्वारा अपनी अपनी तैयारियां शुरू कर दी गई है। सरकार भी अपनी योजनाओं का हर संभव प्रचार प्रसार कर लोगों को अपने साथ जोडने में लगी है।

वहीं सरकार के राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग की उनके विधानसभा क्षेत्र भरतपुर में पकड कमजोर होती दिखाई दे रही है। राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग की लोकप्रियता का ग्राफ पिछले कुछ महीनों में लगातार गिर रहा है।

राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के विधानसभा क्षेत्र में सड़के, चिकित्सा सुविधा, फर्जी पट्टा प्रकरण, इंदिरा रसोई में लापरवाही, जिला कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की नाराजगी, अपने चहेतों को बढावा देने की मानसिकता, सहित कई मामलों को लेकर भाजपा नेताओं के साथ साथ आमजन के भी निशानों पर लगातार आ रहे हैं।

भाजपाईयों के द्वारा तो भरतपुर में हर प्रकार की व्यवस्थाओं में कमियों के लिए एकमात्र राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग को जिम्मेदार ठहराया है। जो कि जिले की राजनीतिक हलकों में डॉ. सुभाष गर्ग की लोकप्रियता को कम रहा है।

वहीं अभी हाल ही हुए अग्रवाल सभा के जिला स्तरीय कार्यक्रम में भी राज्यमंत्री गर्ग की अनुपस्थिति राजनीतिक हलकों में चर्चाओं का विषय बन गई है। जिला अग्रवाल महासभा के नेतृत्व में जिले के सभी अग्रवाल संगठनों के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता इस कार्यक्रम में एकत्रित भी हुए थे।

राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग भी इस कार्यक्रम में आमंत्रित थे। लेकिन राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने भरतपुर क्षेत्र में रहते हुए भी इस कार्यक्रम के लिए अपना समय नहीं निकाला। वहीं पूर्व विधायक विजय बंसल इस पूरे कार्यक्रम के दौरान वहां मौजूद रहे।

पूर्व विधायक विजय बंसल के बारे में माना जा रहा है शायद एक बार फिर से भरतपुर विधानसभा क्षेत्र से वह अपना चुनावी अभियान फिर से शुरू कर रहे हैं। अभी हाल ही सफाईकर्मियों के द्वारा किए गए आंदोलन को लेकर भी उनके द्वारा कांग्रेस सरकार की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल उठाए थे।

वहीं सफाईकर्मियों की लंबी खिंची हडताल को लेकर भी जनप्रतिनिधियों पर सवाल लगाए थे। पूर्व महापौर शिव सिंह भौंट ने तो बिना नाम लिए यहां तक आरोप लगा दिए थे राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के इशारे के बिना जिला प्रशासन एवं नगर निगम में पत्ता तक नहीं हिलता है।