मेवात क्षेत्र में मोबाइल पर तीन तलाक का पहला मुकदमा दर्ज

Three Divorce Ordinance Approved
file photo

Bharatpur News/राजेन्द्र शर्मा जती।भरतपुर जिले के  कामां सर्किल के पहाड़ी मेवात इलाके में अपनी पत्नी को मोबाइल पर तीन तलाक देने का पहला मामला सामने आया है जिसको लेकर पीडिता ने पहाड़ी थाने में दर्ज कराया  है|

पहाड़ी थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पहाड़ी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांव सतवाडी निवासी  विवाहिता ने अपने पति साहित सास ससुर और देवर जेठ समेत कई लोगों के खिलाफ मुस्लिम महिला संरक्षण एवं विवाह अधिकार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कराया है।

दर्ज कराए गए मुकदमे में उल्लेख किया गया है कि पीड़िता विवाहिता की शादी 3 वर्ष पहले गोपालगढ़ थाना क्षेत्र के गांव पीरुका निवासी शहीद पुत्र फजरु मेव से हुई थी पिछले दिनों वह अपने पीहर आई हुई थी 27 फरवरी रात्रि को करीब आठ बजे विवाहिता के पिता के फोन पर उसके पति का फोन आया उसने पिता को कहा कि उसकी पत्नी से बात करा दीजिए इसी पर पिता ने मोबाइल का स्पीकर ऑन कर दिया जब पति से बातचीत करने का कारण पूछा तो उसने उसके पिता को गालियां दी।

विवाहिता को भी बातचीत में मोबाइल पर ही तीन बार तलाक तलाक तलाक कह दिया जिसके बाद पीड़ित विवाहिता का पति पंचों को लेकर विवाहिता के ससुराल पीरुका गया तो वहां ससुर फजूर, सास शेरनी, जेठ आबिद, एवं देवर साबिर ने कहा कि हम सब की सलाह से ही शहीद ने अपनी पत्नी को फोन पर तलाक दिया है जिसके बाद पीड़ित विवाहिता ने पहाड़ी थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया है पुलिस मामला दर्ज करने के बाद मामले की जांच करने में जुट गई है।

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार द्वारा तीन तलाक पर बनाए गए कानून के बाद मेवात क्षेत्र में मोबाइल पर तलाक देने का यह पहला मामला सामने आया है जो पूरे क्षेत्र में एक चर्चा का विषय बना हुआ है। वही विवाहिता द्वारा अपने ससुराल पक्ष पर मारपीट करने और दहेज मांगने का आरोप भी लगाया गया है।