भरतपुर

मध्यांतर समाप्त करने हेतु आयुर्वेद चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री के नाम दिया ज्ञापन

भरतपुर / राजेंद्र शर्मा जती।  आयुर्वेद विभाग द्वारा संचालित औषधालय/चिकित्सालयों में 12 से 1बजे तक मध्यांतर अवकाश के आदेश को निरस्त करने हेतु राजस्थान आयुर्वेद विभागीय चिकित्सक संघ की भरपूर शाखा के पदाधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री के नाम अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बीना महावर को ज्ञापन सौंपा गया।

इस अवसर पर जिला अध्यक्ष डॉ भगवान सिंह सोगरवाल एवं सचिव डॉ वीरेंद्र सिंह ने बताया कि एलोपैथी एवं पशुपालन विभाग में कोई मध्यांतर नहीं होता है मध्यांतर का समय केवल आयुर्वेद विभाग में संचालित औषधालय एवं चिकित्सालयों में ही लागू किया हुआ है जो कि कर्मचारियों के साथ साथ रोगियों के लिए अव्यवहारिक है। उन्होंने बताया कि एक घंटे के मध्यांतर में रोगी परेशान रहते हैं।

यदि मध्यांतर को समाप्त किया जाए तो लोगों को लगातार उपचार की सुविधा मिल सकेगी। इस अवसर पर वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी डॉ चन्द्र प्रकाश दीक्षित डॉ कल्याण पाराशर डॉ राजेंद्र शर्मा मेलनर्स जिला अध्यक्ष बलराम शर्मा हरनारायण सहित अनेक अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम