भरतपुर संभाग के विकास में कोई कसर नहीं छोडेगी सरकार – रमेश मीना

भरतपुर /राजेन्द्र शर्मा जती। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग मंत्री एवं जिला प्रभारी मंत्री रमेश चन्द मीना के मुख्य आतिथ्य एवं तकनीकी शिक्षा, आयुर्वेद और भारतीय चिकित्सा, जन अभियोग निराकरण विभाग (स्वतंत्र प्रभार) राज्य मंत्री डाॅ सुभाष गर्ग की अध्यक्षता में राज्य सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर शनिवार को एनएच 21 स्थित महात्मा गांधी वेटनरी काॅलेज के आॅडिटोरियम में जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया गया।


इस अवसर पर मुख्य अतिथि एवं जिला प्रभारी मंत्री श्री मीना ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा तीन वर्ष के कार्यकाल में राज्य के सभी वर्गों के लोगों को राहत देने के लिए लोक कल्याणकारी योजना एवं विकास कार्य शुरू किये जो धरातल पर आ रहे हैं जिनका लाभ आमजन को मिलना शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा सत्ता सम्भालने के पश्चात् कोरोना महामारी के संक्रमण का बेहतरीन एवं बेमिसाल प्रबंधन किया जिसे देशभर में सराहना कर माॅडल प्रबंधन के रूप में विकसित किया गया। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में भी राज्य सरकार की यह मंशा रही कि कोई भी संक्रमित व्यक्ति उपचार से वंचित न रहे और उन्हें बेहतर उपचार मिले साथ ही राज्य में कोई भी गरीब एवं निर्धन व्यक्ति भूखा न रहे न ही भूखा सोये इसके लिए राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा व्यवस्थाओं का सुदृणीकरण किया गया।

उन्होंने कहा कि राज्य में ही नहीं वरन् भरतपुर में भी बेहतर चिकित्सा प्रबंधन होने के कारण राज्य के अन्य जिलों सहित एनसीआर एवं अन्य राज्यों के संक्रमित रोगी भी भरतपुर में उपचार कराने आये एवं पूर्ण स्वस्थ्य होकर वापिस लौटे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा राज्य के पूर्वी भरतपुर सम्भाग को बजट में विकास योजनाओं को प्राथमिकता देकर विकास को एक नयी गति प्रदान की है।

राज्य सरकार द्वारा सम्भाग में जनप्रतिनिधित्व का सम्मान करते हुए भरतपुर जिले से चार मंत्रियों के साथ ही भरतपुर सम्भाग से मुझे भी मंत्री पद दिया गया जिससे भरतपुर सम्भाग के विकास को और अधिक गति मिलेगी।
कार्यक्रम में तकनीकी शिक्षा मंत्री डाॅ. गर्ग ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा भरतपुर के विकास को गति देकर अन्य सम्भागीय मुख्यालयों के अनुरूप विकसित करने का प्रयास किया।

उन्होंने कहा कि भरतपुर में चिकित्सा सुविधाओं के सुदृणीकरण के तहत मुख्यालय सहित क्षेत्रीय सीएचसी पर 16 आॅक्सीजन जनरेशन प्लांट लगाये गये हैं। उन्होंने कहा कि भरतपुर के विकास में बाधक टीटीजेड, एनसीआर एवं एनजीटी के प्रतिबंध बने हुए हैं इनसे राहत के लिए विशेष प्रयास किये जा रहे हैं जिससे जिले में औद्योगिक विकास के साथ ही अन्य विकास कार्य भी कराये जा सकें।

उन्होंने कहा कि वे भरतपुर के विकास के लिए निरंतर प्रयासरत हैं इसके लिए उन्होंने भरतपुर के वर्षा जल निकासी के लिए राज्य सरकार से 275 करोड़ रूपये स्वीकृत कराकर ड्रेनेज प्लान की क्रियान्विति की जा रही है जिससे भरतपुरवासियों को जलभराव की समस्या से निजात मिल सकेगी।

जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने कहा कि उनके पदस्थापन के पश्चात कोरोनाकाल में जिला प्रशासन, चिकित्सा विभाग, पुलिस विभाग एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा टीम भावना से कार्य कर बेहतर चिकित्सकीय प्रबंधन के साथ ही गरीब एवं निर्धनों को आवश्यक राहत प्रदान की गयी। इसके पश्चात जिला प्रशासन द्वारा पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से सम्पन्न कराये गये तथा राज्य सरकार द्वारा 2 अक्टूबर 2021 से प्रशासन गांव के संग एवं प्रशासन शहरों के संग अभियान चलाकर पट्टा वितरित कर एवं अन्य समस्याओं का समाधान कर राहत पहुंचायी गयी।

कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री द्वारा 27 करोड़ से अधिक राशि के विकास कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण आॅनलाइन प्रक्रिया द्वारा किया गया तथा विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के पात्र व्यक्तियों को सहायता राशि उपलब्ध करायी।

इस अवसर पर प्रभारी मंत्री एवं अन्य अतिथियों द्वारा राज्य सरकार के तीन वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के अवसर पर जिला प्रशासन एवं सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन किया गया। इसके साथ ही भरतपुर एनवायरमेंट प्लान पुस्तिका का भी विमोचन किया गया।

इस अवसर पर नगर निगम महापौर अभिजीत कुमार, उप महापौर गिरीश चैधरी, सम्भागीय आयुक्त पीसी बेरवाल, जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता, जिला पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र विश्नोई, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुशील कुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) श्रीमती बीना महावर, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) रघुनाथ खटीक, नगर निगम आयुक्त कमलराम मीना, नगर सुधार न्यास के सचिव के के गोयल, डीआईजी स्टाम्प उत्तम मदेरणा, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक मुख्यालय प्रेमसिंह कुन्तल, महिला अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक अमित गुप्ता सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।