Forester and tree keeper arrested red handed taking bribe of 11 thousand
भरतपुर राजस्थान

वनपाल एवं वृक्ष पालक 11 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

भरतपुर / राजेन्द्र शर्मा जती। भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवानलाल सोनी तथा एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम.एम के निदेशन में भष्ट्राचार की रोकथाम को प्रदेश में चलाए जा रहे अभियान के तहत बुधवार को में एसीबी धौलपुर टीम ने पुलिस उपाधीक्षक सुरेन्द्रसिंह के नेतृत्व में भरतपुर जिले के कस्वा हलैना स्थित वन रेन्ज कार्यालय पर कार्यावाही करते वनपाल अजयसिंह एवं वृक्ष पालक महेन्द्रसिंह को हरे वृक्ष कटवाने की ऐवज में ग्याहर हजार रूपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया,

जिस कार्यवाही की भनक लगते ही वन,खनिज,राजस्व,शिक्षा,चिकित्सा आदि विभाग में हडकम्प मच गया। एसीबी के महानिदेशक भगवानलाल सोनी ने बताया कि हलैना थाना के गांव जंहानपुर निवासी गिरधरसिंह जाट ने एसीबी को सूचना दी कि हलैना स्थित वन रेन्जर कार्यालय एवं वन पौधशाला पर कार्यरत वनपाल एवं वृक्ष पालक हरे एवं सूखे पेड कटवाने की ऐवज में 15 हजार रू0 की रिश्वत मांग रहे है,जिसकी सूचना के बाद उक्त प्रकरण का सत्यापन कराया,जो सच निकला,उक्त प्रकरण की कार्यवाही को एसीबी धौलपुर के पुलिस उपाधीक्षक सुरेन्द्रसिंह के नेतृत्व में टीम गठित की,जिस टीम ने बुधवार को हलैना पहुंच कर कार्यवाही शुरू की,टीम ने वनपाल अजयसिंह एवं वृक्ष पालक महेन्द्रसिंह को परिवादी गिरधरसिंह के द्वारा हलैना बस स्टेण्ड पर बुलाया गया,जैसे ही परिवादी गिरधर से रिश्वत की 11 हजार रू0 की नगद लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया,रिश्वत के आरोप में पकडे गए वनपाल अजयसिंह ने उक्त राशि में से 4 हजार की नगदी वृक्ष पालक महेन्द्रसिंह दे दी थी।

उन्होने बताया कि एसीबी टीम के प्रभारी सुरेन्द्रसिंह ने रिश्वत के आरोप में सेढ का मढ गोपालगढ भरतपुर निवासी एवं वनपाल अजयसिंह पुत्र भरतसिंह जाट तथा हलैना थाना के गांव नसवारां निवासी एवं वृक्ष पालक महेन्द्रसिंह पुत्र किशनसिंह जाट को गिरफ्तार कर इनसे रिश्वत की 11 हजार की राशि वरामद की गई है।

– साल 2023 में थी सेवानिवृति

वन विभाग के हलैना स्थित रेन्जर कार्यालय एवं वन पौधाशाला पर कार्यरत वृक्ष पालक महेन्द्रसिंह की सेवानिवृति साल 2023 में होनी थी,जो सेवनिवृति पर रिस्तेदार व परिजनों सहित मित्र मण्डल को दावत देने की कहता था,उसे क्या पता था कि रिश्वत लेना मुझे मंहगा पड जाऐगा।

– पिता के स्थान पर लगा वनपाल

रिश्वत के आरोप में पकडा गया वनपाल अजयसिंह पिता स्व.भरतसिंह के स्थान पर लगा,इसके पिता भरतसिंह वन विभाग में रेन्जर थे,अनुकम्पा पर नौकरी मिली,इसकी माता ने कई बार आग्रह किया बताया कि बेटा तेरे पिता ने जीवन में कभी रिश्वत नही ली और निर्दोष व्यक्ति का कभी नही सताया,तू पिता के रास्ता पर चलना और ईमानदारी से नौकरी करना।

– ये थे टीम में शामिल

एसीबी के महानिदेशक भगवानलाल सोनी तथा अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम एम ने बताया कि भरतपुर जिले के कस्वा हलैना में वनपाल एवं वृक्ष पालक को रिश्वत प्रकरण की कार्यवाही करने वाली टीम में धौलपुर एसीबी पुलिस उपाधीक्षक सुरेन्द्रसिंह,कॉस्टेबल भोजरामसिंह, ब्रहमदेव,महिपाल,कनिष्ठ सहायक राजकुमार आदि शामिल रहे।

 

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.