भरतपुर राजस्थान

कुआँ वाली जात के नाम पर आस्था या अन्धविश्वास / मेले में बच्चों पर नजर

भरतपुर (राजेंद्र शर्मा जती) । भरतपुर जिले में बच्चों के मुंडन कराने व् उनको नजर से बचाने के लिए कुआ वाला मेला का आयोजन हुआ जिसमें लोग अपने बच्चों को लेकर पहुंचे और उनका मुंडन कराने के बाद मुर्गे द्वारा आशीर्वाद दिलाया गया व् झाड़ फूक दिलाई गयी और इस दौरान भारी संख्या में महिला व् पुरुष अपने छोटे बच्चों को लेकर मेला में पहुंचे और अपने बच्चों पर मुर्गा घुमवाया द्य जानकारी के मुताविक बच्चों के मुंडन कराने व् उनको नजर गुजर भूत प्रेत के साये से बचाने के लिए मुर्गे द्वारा आशीर्वाद दिलाया जाता है और यह मेला वर्ष में एक बार ही लगता है ।

जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के पास ही मेला लगता है जहाँ सैकड़ों की संख्या में महिलाएं अपने छोटे बच्चों को लेकर आती है और वहां मुर्गे वाले भी खूब कमाई करते है जो बच्चों के सिर पर मुर्गा फेरते है व् उनको मुर्गे द्वारा आशीर्वाद दिलाते है ।

मुर्गे वाले ने कहा की यह मेला कुआ वाली जात के नाम से जाना जाता है जो वर्ष में एक बार लगता है जिसमे लोग अपने छोटे बच्चों को लेकर आते है और यहाँ उनके बाल कटवाते है व् मुर्गे द्वारा उनको आशीर्वाद दिलाया जाता है जिससे बच्चे किसी भी प्रकार की बुरी नजर से सुरक्षित रहते है द्य

 

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.