राजस्थान के इस ज़िलें में आरक्षण की मांग को लेकर सैनी समाज का नेशनल हाईवे पर जाम लगाकर प्रदर्शन

भरतपुर/राजेन्द्र शर्मा जती । आरक्षण की मांग को लेकर सैनी समाज का नेशनल हाईवे पर जाम लगाकर प्रदर्शन किया। भारी संख्या में सैनी समाज के लोग गांव अरौंदा-हंतरा के पास आगरा-बीकानेर हाईवे पर एकत्रित हुए।

जहां हाथों में लाठी-डंडे लेकर वाहनों को रोक दिया। सैनी समाज के लोग 12 प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। करीब तीन महीने पहले ही समाज ने संबंधित संगठन के नाम से प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन देकर जाम की चेतावनी दे दी थी, लेकिन ध्यान नहीं देने के कारण अचानक जाम की समस्या का सामना आमजन को करना पड़ रहा है।

आंदोलन महात्मा ज्योतिवा राव फूले आरक्षण संघर्ष समिति के बैनर तले किया जा रहा है। हजारों की संख्या में आसपास के सभी जिलों से लोग पहुंचे हैं। आंदोलन प्रदेश संयोजक मुरारीलाल सैनी के नेतृत्व में किया जा रहा है।

आंदोलनकारियों ने बताया कि आदि ने बताया कि राजस्थान प्रदेश में माली, सैनी, कुशवाहा, शाक्य व मौर्य समाज की करीब एक करोड़ जनसंख्या है। लेकिन आरक्षण के अभाव समाज राजनैतिक, सामाजिक, शैक्षिक व आर्थिक स्थिति में सबसे पिछड़ा हुआ है।

क्योंकि अधिकांश परिवार लघु कृषक व मजदूरी का कार्य करते हैं। समाज के लोगों के पास आय का स्त्रोत नहीं है व अधिकतर लोग गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने के साथ विषम आर्थिक संकट के कारण अपने बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने में असमर्थ और असहाय बने हुए है। इसके कारण सरकारी सेवा में भागीदारी नगण्य है।

उन्होंने जनसंख्या के अनुपात व आर्थिक असमानता के आधार पर सरकारी नौकरियों में समाज को 12 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग की गई है।