मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों से मिलकर संवेदना प्रकट की,

धार्मिक अनुष्ठान करते रहने पर दिया जोर

भरतपुर। (राजेन्द्र जती) बुधवार की रात भरतपुर में आए तेज आंधी-तूफान के बाद प्राकृतिक आपदा में हुई जनहानि एवं हालात का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे आज भरतपुर पहुची और जनुथर गांव में प्राकृतिक आपदा में मरे हुए लोगों के परिजनों से मिलकर अपनी ओर से शोक संवेदना व्यक्त की। इस दौरान मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए यज्ञ, हवन एवं धार्मिक अनुष्ठान करने चाहिए। जहां-जहां भी धार्मिक अनुष्ठान होते है वहा प्राकृतिक आपदाओं का असर कम ही देखने को मिलता है। मुख्यमंत्री राजे ने इस हादसे में मृतकों के परिजनों को सरकार की ओर से 4-4 लाख रूपये की आर्थिक सहायता सहित हरसंभव मदद दिए जाने का आश्वासन दिया।

ज्ञात रहे कि दो दिन पहले भरतपुर में प्रकृतिनक आपदा में भरतपुर के 19 लोगों की मौत हुई थी जिसमे 138 लोग घायल हुए थे। इसी के तहत सीएम राजे जनुथर गांव पहुंची जहां पर तीन जवान युवकों की मौत हुई थी । उनके यहाँ शोक संवेदना व्यक्त की। उस दौरान मृतकों के परिजनों 4 लाख के मुआवजे के अलावा सरकारी नोकरी भी देने की मांग की। तब सीएम ने कग की पूरे राज्य में 35 लोगो की मौत हुई है देखते है ज्यादा से ज्यादा सरकार आप लोगो की मदद करेंगी। इस दौरान पर मंत्री कालीचरण सर्राफ कृष्णेन्द्र कोर दीपा विधायक विजय बंसल ,अनिता सिंह संसद बहादुर कोली  आई जी आलोक वशिष्ठ डीसी सबीर कुमार कलक्टर एन के गुप्ता सन्देज़ह नाइक एसपी अनिल टांक मोजुद थे।

https://youtu.be/NlYarNqFZ9M