भरतपुर में ताउ-ते चक्रवात ने दी दस्तक

Bharatpur/ राजेन्द्र शर्मा जती। भरतपुर में अब देश के विभिन्न हिस्सों में तबाही मचाने वाले ताउ-ते चक्रवात
ने दस्तक दे दी है।

ताउ-ते चक्रवात के मंगलवार को राजस्थान में एन्ट्री
को लेकर भरतपुर जिला प्रशासन ने भी तैयारियां कर ली है। ताउ-ते चक्रवात ने महाराष्ट्र एवं गुजरात के विभिन्न क्षेत्रों में जमकर कहर बरपाया है।

ताउ-ते चक्रवात के चलते भयंकर तूफान एवं बारिश ने लोगों का जीवन अस्त व्यस्त किया है। अब भरतपुर में भी सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहै।

जिससे लोगों को दिन भर सूरज के दर्शन नहीं हो पाए। रह रह कर दिन भर हल्की बूंदा बांदी होती रही। प्रशासन के द्वारा लोगों को सतर्क रहने की अपील की जा रही है। वहीं लोग भी खबरों के जरिए तूफान के लिए तैयार है।

ताउ-ते चक्रवात के चलते भयंकर अंधड आने का अनुमान लगाया जा रहा है। वहीं बारिश की चेतावनी दी जा रही है।
ताउ-ते चक्रवात के चलते जिले के लोगों में चर्चाए जगह जगह होने लगी है।

लोग भी तूफान को लेकर आशंकित है। हालांकि ताउ-ते चक्रवात के चलते मई के
मौसम में झुलसा रही गर्मी से लोगों को राहत मिली है। जहां गर्मी का पारा मई के महीने में दिनों दिन बढ रहा था। वहीं ताउ-ते चक्रवात के चलते पिछले दो दिनों से ही मौसम में बदलाव शुरू हो गया था।

मंगलवार को तो दिन भर आसमान में बादल छाए रहने से तापमान में खासी गिरावट महसूस की गई। दिन भर
आसमान में दाए बादलों एवं हल्की बूंदाबांदी के चलते मौसम में ठण्डक महसूस की गई। अभी हाल फिलहाल अगले एक दो दिन तक ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान
व्यक्त किया जा रहा है।