भरतपुर में नई मण्डी में सरसौं की बोली को लेकर विवाद, हुआ यह फैसला

भरतपुर / राजेन्द्र शर्मा जती । भरतपुर में शनिवार को नई मण्डी में सरसौं की बोली को लेकर विवाद हो
गया। जिसके बाद व्यापारियों, किसान एवं मण्डी सचिव के बाद बैठक के बाद स्थिति सामान्य हुई।

भरतपुर में इस बार सरसौं की बम्पर आवक हुई है। वहीं आगामी समय में बारिश और ओलावृष्टि की संभावना को देखते हुए किसान जल्द से जल्द सरसौं का विक्रय करना चाहता है। जिसके चलते नई मण्डी में आजकल सरसौं का अम्बार लगा हुआ है। वहीं शनिवार को सरसौं की बोली को लेकर कुछ विवाद की स्थिति भी बनी हुआ यूं कि किसान पूर्व की तरह ही अपना माल लेकर मण्डी में आए थे।
जहां दोपहर को सरसौं की बोली लगी। जो कि करीब 5385 रूपये पर आकर रूकी।

इस पर कुछ लेवाल ने कहा कि बोली अधिक दाम की खुली है और इस पर वे सरसौं लेना नहीं चाहते और मण्डी में हालात यह बन गई कि कोई भी किसानों से सरसौं लेने
को तैयार नहीं था। ऐसा बताया गया कि कुछ बोली लगाने वालों ने सरसौं की अधिक बोली लगा दी जबकि वे पहले बोली नहीं लगाते थे जिसके बाद विवाद हो
गया। एक और जहां कोई भी सरसौं लेने को तैयार नहीं था। वहीं दूसरी और किसान सरसौं से भरे ट्रैक्टर ट्राॅली लाते जा रहे थे।

हालात ये बने कि पूरी सरसौं मण्डी सरसौं के माल से भर गई। यहा तक कि मण्डी के बाहर भी काफी संख्या में किसान ट्रैक्टर ट्राॅली में रखी सरसौं को लेकर खडे होने
को मजबूर थे। मण्डी और मण्डी के बाहर जाम के हालात बन गए। जिसके बाद कोतवाली थाना पुलिस भी मौके पर पंहुच गई। जिसके बाद मण्डी सचिव, व्यापारियों और किसानों के बीच वार्ता हुई। जिसमें तय हुआ कि जो बोली लगी है उसी पर माल खरीदा जायेगा जिसके बाद स्थिति सामान्य हुई और किसानों को राहत मिली।