भरतपुर में कलयुगी बेटा और उसका दोस्त गिरफ्तार

भरतपुर /राजेन्द्र शर्मा जती। राजस्थान के भरतपुर में थाना रूदावल के पुराबाई खेडा में 8 फरवरी को अपने दोस्त के साथ मिलकर अपने बाप भगवान सिंह की गोली मारकर हत्या के आरोप में बेटा विश्वेन्द्र ब उसका दोस्त राकेश उर्फ कल्ला गिरफ्तार। 9 बीघा जमीन को लेकर विगत कई वर्षां से चल रहे बिबाद के कारण पुरानी रंजिश के चलते गांव के लोगों को फंसाने की नीयत से पुत्र ने ही रची पिता की हत्या की साजिश।भगवान सिंह की हत्या के बाद उसके भतीजे जीतेन्द्र सिंह द्वारा गाव के मंगतीराम, भारतीय सेना में कार्यरत उसके बेटे जीतेन्द्र ब अन्य परिवारीजनों के खिलाफ दर्ज कराई गई रिपोर्ट।

थानाधिकारी थाना रूदावल मनीष शर्मा के नेतृत्व में गठित की गई विशेष टीम ने साइबर टीम के सहायता से किया मामले का खुलासा। छानबीन में पता चला कि मृतक भगवान सिंह के ऊपर था गाव के लोगो का करीब 20 लाख का कर्जा। डाक्टर से अपना इलाज करा कर गाव लौटते समय विश्वेन्द्र अपने मित्र कल्ला की सहायता से अपने बाप भगवान सिंह को मोटरसाइकिल पर बिठाकर ले गया जंगल में जहां पिस्टल से गोली मारकर उसकी कर दी गई हत्या।

मामले के खुलासे में थानाधिकारी के अलाबा वृत्ताधिकारी वृत्त बयाना अजय शर्मा, साइबर सेल भरतपुर के उपनिरीक्षक अमरेश कुमार, थाने के हेडकांस्टेबल नरेन्द्र सिंह 1397, दिनेश सिंह, कांस्टेबल प्रेम 1671, दिनेश 2590, पवन 2480, अजीत 1555, हेडकांस्टेबल साइबर सेल जोगेन्द्र सिंह 1630, कांस्टेबल साइबर सेल जयदेव 1673 की भूमिका रही सराहनीय।