भरतपुर के सपूत पुष्पेन्द्र सिंह फौजदार का उनके पैतृक गांव  श्योराबली में राजकीय सम्मान के साथ  किया  अंतिम संस्कार

Bharatpur / राजेन्द्र शर्मा जती। भारतीय सेना की जाट रेजीमेंट में कार्यरत सैनिक पुष्पेंद्र सिंह सिंह की मात्र 21 वर्ष की उम्र में अरुणाचल प्रदेश में 31 अप्रैल को ड्यूटी के दौरान गोली लगने से मौत हो गई ।

शनिवार को उनके गांव श्योरावली तहसील डीग में सैनिक पुष्पेंद्र सिंह का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। अरुणाचल प्रदेश से दिवंगत सैनिक पुष्पेंद्र सिंह के शव को लेकर आये सूबेदार कुलदीप सिंह और उनके साथ आए सेना के  जवानों और भरतपुर स्टेशन से आई सेना की टुकड़ी ने उनकी देह पर पुष्प चक्र अर्पित करते हुए पूर्ण सैनिक सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी।

https://twitter.com/vishvendrabtp/status/1377881098571550721?s=19

इस मौके पर पूर्व मंत्री एव विधायक विश्वेंद्र सिंह, किसान नेता नेम सिंह फौजदार ,तहसीलदार अशोक साह ने भी उनके शव पर पुष्प चक्र अर्पित  कर शोक जताया और उनके परिवारी जनों को ढाढस बंधाया।

 

उनके अंतिम संस्कार में समूचे गांव  के लोगों के साथ आसपास के गांवों के लोगों ने बड़ी संख्या में पहुंच कर उन्हें  श्रद्धा सुमन अर्पित   किए। दिवंगत सैनिक पुष्पेंद्र सिंह की पत्नी सुमन ने भी बिलखते हुए अपने पति की  पार्थिव देने पर पुष्प अर्पित कर उन्हें अंतिम विदाई दी।  दिवंगत सैनिक पुष्पेंद्र सिंह का मात्र 3 माह का पुत्र है।

फ़ोटो – ड़ीग के गांव श्योरावली में   दिवंगत सैनिक पुष्पेंदर सिंह की पार्थिव देह पर पुष्प अर्पित कर अंतिम विदाई देते हुए उनकी पत्नी सुमन