भरतपुर राजस्थान

भरतपुर में भाजपा के प्रदेश महामंत्री मंत्री भजन लाल शर्मा ने राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग पर लगाए आरोप, पढ़े क्या है आराेप 

नगर निगम के फर्जी पट्टा प्रकरण, रीट प्रकरण के लिए मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग को बताया गडबडी का मुख्य कर्ताधर्ता

भजन लाल ने कहा कि भरतपुर का प्रशासन एवं पुलिस मंत्री गर्ग के दबाव में कर रहे कार्य

मंत्री सुभाष गर्ग के द्वारा फर्जी पटटा प्रकरण में एसओजी जांच की घोषणा करने के बाद भी जांच नहीं कराने को लेकर उठाए सवाल

Bharatpur News/ राजेंद्र शर्मा जती। भरतपुर में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री भजन लाल शर्मा ने सारस चौराहे स्थित होटल ईगल नेस्ट में भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ. शैलेष सिंह सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ प्रेस वार्ता कर नुमाईश मैदान पर 6 जनवरी को आयोजित होने वाली जनआक्रोश सभा के बारे में जानकारी देते हुए

 बताया कि जनआक्रोश सभा में जनता को कांग्रेस पार्टी के कुशासन के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रमुख पदाधिकारी कांग्रेस सरकार के फेलियर को जनता के बीच रखेंगे।

प्रेस वार्ता में भाजपा के प्रदेश महामंत्री भजन लाल शर्मा ने भरतपुर के विधायक एवं राज्यमंत्री के डॉ. सुभाष गर्ग के खिलाफ जमकर हमला बोला और उन पर कई गंभीर सवाल उठाए। उनका आरोप है कि भरतपुर की पुलिस एवं प्रशासन राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग के दबाव में कार्य करता है।

प्रदेश महामंत्री भजन लाल शर्मा ने कहा कि सरकार ने विधायकों को खुली छूट दे रखी है कि अपने मनपसंद अधिकारी को अपने यहां लगाए। जिस पर अधिकारी को विधायक के इशारे पर करना पडता है कार्य। प्रदेश महामंत्री भजन लाल शर्मा ने कहा कि मंत्री गर्ग खुद एसओजी की जांच के लिए बोलते है।

लेकिन जांच कराते नहीं है जो कि उनकी जवाबदेही पर सवाल उठाती है। प्रदेश महामंत्री भजन लाल शर्मा ने आरोप लगया कि मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने ड्रेनेज प्रोजेक्ट के नाम पर नगर निगम को हुडको के यहां गिरवी कर दिया।

आगे नगर निगम के कर्मचारियों के वेतन के भी लाले पड जाएंगे। उन्होंने कहा कि रीट प्रकरण में मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कितना नाम कमाया है यह किसी से छुपा नहीं है। भरतपुर में मंत्री के चहेते संवेदक को कार्य के ठेके दिए जा रहे हैं।

सही सडक के ऊपर सडक बनाई जा रही है। जहां हाल बेहाल हैं उन सडकों की ओर किसी का ध्यान ही नहीं है। गलत गुणवत्ता की जांच करने वाला कोई है हीं नहीं क्यौंकि प्रशासन मंत्री गर्ग के दबाब में कार्य कर रहा है। सैक्टर 13 में मंत्री गर्ग के इशारे पर किसानों को परेशान किया जा रहा है।

किसानों को सरकार की ओर से ना तो मुआवजा दिया जा रहा है ना ही उनकी भूमि दी जा रही है। जिससे किसानों के हालात बेहद दयनीय स्थिति में जा चुके हैं। जिला आरबीएम अस्पताल में दो करोड रूपये के विकास कार्य नगर निगम के द्वारा करा दिए गए। जबकि अस्पताल के विकास का पैसा तो सरकार से लाया जा सकता था।

सफाई का ठेका पूर्व की दुगुनी कीमत में एक निजी कंपनी को दे दिया गया। जिससे शहर का कोई भला नहीं हुआ।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.