आरबीएम एवं जनाना चिकित्सालय में 623 लाख लागत के बनने वाले आईसीयू बैडों का मुख्यमंत्री ने किया शिलान्यास

Bharatpur News / राजेन्द्र शर्मा जती । राजस्थान के 12 मेडिकल काॅलेजों एवं सम्बद्व चिकित्सालयों में कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिये लगभग 94 करोड रूपये की लागत से बनने वाले 511 आईसीयू एवं पीकू व नीकू बैडों का मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आॅनलाईन शिलान्यास किया । इस शिलान्यास में भरतपुर के …

आरबीएम एवं जनाना चिकित्सालय में 623 लाख लागत के बनने वाले आईसीयू बैडों का मुख्यमंत्री ने किया शिलान्यास Read More »

July 9, 2021 7:12 pm

Bharatpur News / राजेन्द्र शर्मा जती । राजस्थान के 12 मेडिकल काॅलेजों एवं सम्बद्व चिकित्सालयों में कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिये लगभग 94 करोड रूपये की लागत से बनने वाले 511 आईसीयू एवं पीकू व नीकू बैडों का मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आॅनलाईन शिलान्यास किया । इस शिलान्यास में भरतपुर के आरबीएम चिकित्सालय के 20 आईसीयू एवं जनाना के 10 नीकू बैड शामिल हैं।

आॅनलाईन शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर का जिस तरह हम सबने मिलकर सामना किया और राजस्थान को पहचान दिलाई उसी तरह संभावित तीसरी लहर का मुकाबला करने के लिये भी राज्य के चिकित्सालयों के संसाधनों को अधिक कारगर और उपयोगी बनाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार तीसरी लहर का सर्वाधिक प्रभाव बच्चों पर होगा इस दृष्टि से चिकित्सा संसाधनों को मजबूत किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस कार्य में हम सबको मिलकर सहयोग करना होगा। उन्होंने बताया कि आॅक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता के लिये सभी चिकित्सालयों में आॅक्सीजन जनरेशन प्लांट लगाने प्रारम्भ कर दिये हैं जिनका कार्य आगामी 15 अगस्त तक पूरा हो जायेगा।

इस अवसर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुये कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के सभी उपाय पूरे कर लिये हैं और आगामी 15 अगस्त तक एक हजार मैट्रिक टन आॅक्सीजन उत्पादन की क्षमता विकसित कर ली जायेगी।

राज्य के एसएमएस चिकित्सालय में जीनोम सीक्योसिंग का कार्य भी प्रारम्भ कर दिया गया है। इसके अलावा टीकाकरण के क्षेत्र में भी राज्य अग्रिम पंक्ति में आ गया है।

समारोह में चिकित्सा राज्य मत्री डाॅ. सुभाष गर्ग ने कहा कि संभावित तीसरी लहर को रोकने के लिये मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जिस प्रकार के प्रयास शुरू किये हैं उससे निश्चिय ही राजस्थान में इसका प्रभाव नहीं के बाराबर होगा। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुये कहा कि मुख्यमंत्री ने पूर्वी राजस्थान को बजट में आवश्यकता से अधिक विकास के कार्य स्वीकृत किये हैं।

उन्होंने चिकित्सा विशेषज्ञों से आग्रह किया कि वे कोरोना के साथ साथ अन्य संक्रामक बीमारियों की रोकथाम के लिये भी कार्य करें ताकि ये संक्रामक बीमारियां आगे महामारी का रूप नहीं ले सके।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन बीना महावर, अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर केके गोयल, मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ रजत श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ कप्तान सिंह एवं अतिरिक्त प्रमुख चिकित्सा अधिकारी के सी बंसल उपस्थित रहे।

Prev Post

जयपुर में भाजयुमो कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, भाजपा ने की निंदा

Next Post

विवाद निपटाने गए पुलिस कार्मिक , अफीम की मनुहार में बैठे ही नही वर्दी में पीने लगे अफीम, वाह  पुलिस, देखें वीडियों

Related Post

Latest News

सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे 
पटवारी 20 हजार रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों अरेस्ट
राजकुमार शर्मा को ब्रेन हेमरेज

Trending News

Goldsmith had to buy gold, it was expensive
रोज आता था ले जाता था फल, दे जाता नकली नोट 
पूर्व जिला प्रमुख चौधरी के साथ पुलिस द्वारा किए दुव्यर्वहार की बैैठक में सर्व समाज के लोगों ने की निंदा
टोंक जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल ने ग्राम पंचायत स्तरीय जनसुनवाई का निरीक्षण किया

Top News

Goldsmith had to buy gold, it was expensive
रोज आता था ले जाता था फल, दे जाता नकली नोट 
पूर्व जिला प्रमुख चौधरी के साथ पुलिस द्वारा किए दुव्यर्वहार की बैैठक में सर्व समाज के लोगों ने की निंदा
गांधी दर्शन पर जिला स्तरीय संगोष्ठी का आयोजन
टोंक जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल ने ग्राम पंचायत स्तरीय जनसुनवाई का निरीक्षण किया
वानी प्रोजेक्ट के तहत रूबरू कार्यक्रम आयोजित | Program organized under Wani Project
Chairman Ali Ahmed inspected the ongoing road construction work on Civil Line Road
Volunteers in Tonk took out path on Vijaya Dashami
गहलोत का कार्यकाल समाप्त, कुर्सी खतरे में
सचिन पायलट के विधायक जोड़ो अभियान को धक्का, जिन विधायकों से संपर्क किया वो सीएम के पास पहुंचे