Bharat Jodo Yatra is being done to end hatred and violence in the country: Gehlot
जयपुर राजस्थान

देश में नफरत और हिंसा को खत्म करने के लिए हो रही है भारत जोड़ो यात्रा : गहलोत

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा शुरू करने का मकसद यही है कि देश में आज किस प्रकार का माहौल बना हुआ है, हर तरफ हिंसा और नफरत फैली हुई है। पूरा देश चिंतित हैं, अगर नफरत और हिंसा इसी तरह से बढ़ती रही तो यह देश किस दिशा में जाएगा, किसी को नहीं पता है। देश से नफरत और हिंसा को खत्म करने भाईचारा-सद्भाव बढ़ाने के लिए ही भारत जोड़ो यात्रा शुरू हो रही है।


कांग्रेस पार्टी छोड़कर जा चुके नेताओं का नाम लिए बगैर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को उन पर जमकर निशाना साधा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जो लोग पार्टी छोड़ गए हैं और जो पार्टी छोड़कर जा रहे हैं, वो कांग्रेस की विचारधारा का प्रतिनिधित्व नहीं करते हैं, उन लोगों ने अपने जमीर का सौदा किया है।

सीएम गहलोत ने कन्याकुमारी में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जो भी लोग पार्टी छोड़ कर गए हैं उन्हें दूसरी पार्टियों में क्या सम्मान मिलता है, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बनना अलग बात है लेकिन उन्होंने अपने स्वार्थों की पूर्ति के लिए अपने जमीर का सौदा कर दिया। उनकी अंतरात्मा उन्हें क्या कहती है, देश उन्हें आज किस रूप में पुकार रहा है, यह उनको देखना चाहिए।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आज देश में हिंसा और नफरत का माहौल बना हुआ है, उसके लिए कई बार विपक्षी पार्टियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राष्ट्र के नाम संबोधन करने की अपील की है और कहा है कि प्रधानमंत्री को आगे आकर कहना चाहिए कि वो देश में हिंसा और नफरत के माहौल को बर्दाश्त नहीं करेंगे, लेकिन ताज्जुब इस बात का है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं।

अगर अभी भी देश को नहीं संभाला गया तो देश में गृह युद्ध के हालात भी उत्पन्न हो सकते हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जिस देश में शांति सद्भाव और भाईचारे रहेगा वो देश और परिवार तरक्की करता है और जिस परिवार और देश में नफरत और हिंसा का माहौल रहता है वो कभी भी तरक्की नहीं कर सकते हैं।

पंडित नेहरू के बिना अमृत महोत्सव अधूरा

सीएम गहलोत ने केंद्र के मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जानबूझकर इतिहास से कांग्रेस के नेताओं के बलिदान और त्याग को मिटाया जा रहा है, इतिहास को बदला जा रहा है। कांग्रेस के नेताओं ने इस देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है। पंडित नेहरू ने देश को आगे बढ़ाने का काम किया है, आज उनके योगदान को भुलाया जा रहा है लेकिन आज आजादी का अमृत महोत्सव पंडित नेहरू के योगदान के बिना अधूरा है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गांधी परिवार पर सवाल खड़ा करने वाले नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि गांधी परिवार से 30 सालों से कोई भी प्रधानमंत्री और केंद्रीय मंत्री तक नहीं बन पाया है। ऐसा नहीं कि उन्हें मौका नहीं मिला हो, उन्हें मौका मिला लेकिन सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री का पद ठुकरा कर डॉक्टर मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनाया था।

सीएम गहलोत ने कहा कि सोनिया गांधी तो राजनीति में आना भी नहीं चाहती थी लेकिन उस वक्त कांग्रेस बिखर रही थी और कांग्रेस को एकजुट करने के लिए सभी नेताओं ने सोनिया गांधी को पार्टी की कमान संभालने का आग्रह किया था और तब कांग्रेस सोनिया गांधी ने पार्टी की कमान संभाली थी और उनके नेतृत्व में लगातार 10 साल तक यूपीए की सरकार केंद्र में रही।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम