आरसीए में फिर मचा घमासान,डूडी का नामांकन रद्द,वैभव के सामने रामप्रकाश चौधरी ने ठोकी ताल

rameshwer dudi

Jaipur News : आरसीए चुनाव(RCA Chunav) में घमासान बुधवार को तेज हो गया। वैभव गहलोत(Vaibhav Gehlot ) के अध्यक्ष पद पर नामांकन भरने के बाद उनके निर्विरोध निर्वाचन के कयास लगाए जा रहे थे,लेकिन बुधवार को परिस्थितियां बदली नजर आई। पहले तो कांंग्रेस नेता रामेश्वर डूडी(Congress leader Rameshwar Dudi) ने लोकपाल (Lok Pal)ज्ञानसुधा मिश्रा के आदेश के बूते पर नामांकन भर दिया,फिर गहलोत के गृह जिले जोधपुर के ही जिला क्रिकेट संघ के सचिव राम प्रकाश चौधरी भी वैभव को चुनौती देने के लिए मैदान में उतर गए। हालांकि मुख्य चुनाव अधिकारी आर.आर.रश्मि ने डूडी के नामांकन को रद्द कर दिया लेकिन चौधरी अध्यक्ष पद के लिए वैभव के सामने डटे हुए है।

आरसीए(RCA) में दिनभर हंगामे की स्थिति बनी रही। सवाईमान सिंह स्टेडियम(SMS) के अमर जवान ज्योति (Amar jawan Jyoti )वाले गेट के बाहर भारी भीड़ नारेबाजी करती रही इससे काफी देर तक खासा बवाल हुआ। कई बार हाथापाई की नौबत भी हुई,खुद डूडी भी सुरक्षाकर्मियों से उलझते दिखाई दिए। बताया जा रहा है कि ये सभी कार्यकर्ता सांसद हनुमान बेनीवाल(Hanuman Beniwal) की पार्टी आरएलपी के थे। इसी हंगामे के चलते पुलिस ने पहले तो डूडी को भी अंदर नहीं जाने दिया,लेकिन बाद में उनको एंट्री मिल गई। डूडी की गाड़ी को स्टेडियम के बाहर रोक दिया गया जिसके बाद डूडी किसी की स्कूटी पर बैठकर नामांकन दाखिल करने  आरसीए अकादमी में गए।

बात तब और ज्यादा बिगड़ी जब डूडी गुट के वकीलों को अंदर नहीं जाने दिया। इस पर डूडी खुद उन्हें लेने आरसीए अकादमी से बाहर आए। पुलिस ने उनको भी रोका तो डूडी ने आईपीएस अधिकारी को यहां तक कह दिया कि तुम्हारी नीति सही नहीं है तुम ऊपर के दबाव में काम कर रहे हो। बाद में पुलिस ने वकीलों को अंदर आने दिया तब जाकर स्थिति सामान्य हुई।

चुनाव के लिए डूडी ग्रुप की तरफ  से उपाध्यक्ष पद पर ऐश्वर्य कटोच और शत्रुघ्न शर्मा, सचिव पद पर सोमेंद्र तिवारी,विनोद सहारण और आरएस नांदू,संयुक्त सचिव पद पर अनंत व्यास,ब्रजकिशोर उपाध्याय और पिंकेश जैन,कोषाध्यक्ष पर अनंत व्यास और ब्रजकिशोर एवं कार्यकारिणी सदस्य के तौर पर रमेश गुप्ता का नामांकन दाखिल किया गया। हालांकि नागौर जिला क्रिकेट एसोसिएशन से होने के कारण नांदू का भी नामांकन रद्द कर दिया गया।

वहीं सीपी जोशी गुट ने 6 पदों पर 9 नामांकन दाखिल किए। इस गुट से वैभव गहलोत मंगलवार को ही अपना नामांकन भर चुके थे। उपाध्यक्ष पद पर आमीन पठान व रामपाल शर्मा, सचिव पद पर महेन्द्र शर्मा और आमीन पठान का नामांकन दाखिल किया गया।  कोषाध्यक्ष की पोस्ट पर किशन निमावत व महेन्द्र शर्मा का नामांकन भरा गया है जबकि संयुक्त सचिव पद पर महेन्द्र नाहर का फॉर्म आया है। कार्यकारिणी सदस्य पद पर देवाराम का नामांकन है। जोशी गु्रप की ओर से रामपाल शर्मा ने कहा की डूडी के आरोप सही नहीं है। अपनी चुनावी तैयारी को लेकर यह कहां की वे चुनाव के लिए तैयार हैं।

गुरुवार का दिन नामांकन वापसी का है। ऐसे में देखना यह होगा कि इस मैदान में कौन डटा रहेगा और कौन नाम वापस लेगा। इसके बाद शाम तक  चुनाव की तस्वीर साफ  हो सकेगी। अध्यक्ष के लिए 4 अक्तूबर को मतदान होगा।

आरसीए में महाभारत:डूडी

विवादों के बीच डूडी के तेवर ज्यादा तीखे हो गए है। डूडी का कहना है कि धृतराष्ट के प्रेम के चलते हुआ था महाभारत का युद्ध और अब आरसीए में भी कुछ इसी तरह का महाभारत हो रहा है। सरकारी मशीनरी के दुरूपयोग और चुनाव अधिकारी पर पक्षपात का आरोप जड़ दिया। डूडी ने कहा कि उन्हें नागौर,श्रीगंगानगर और अलवर के अयोग्यता के मामले में लोकपाल मिश्रा से राहत मिली थी इसके आधार पर वे चुनाव अधिकारी को अपनी अपील देने पहुंचे थे,लेकिन चुनाव अधिकारी ने उनके नामांकन पर विचार नहीं करते हुए खारिज कर दिया। तीनों जिलों को चुनाव लडऩे से गैर कानूनी तरीके से रोका गया है। डूडी ने आरसीए अध्यक्ष सीपी जोशी को भी कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि ये सारा विवाद उनका ही पैदा किए हुए है।