बांसवाड़ा

राजस्थान में एक और शराब कारोबारी कों फिल्मी अंदाज में घर में घुसकर गोलियों से भूना

Banswara। राजस्थान( Rajasthan) मे अपराध (crime) को घटनाएं लगातार बढती जा रही है लूट, गैंगरेप, हत्या (Robbery, gangrape, murder) जैसी घटनाए आम हो गई है इसे यूं कहे तो अतिशयोक्ति नही होगी की शांत माना जाने वाला राजस्थान अब उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) की तरह हो रहा है ।

बीती रात को एक और शराब कारोबारी (Liquor dealer) की उसके घर मे घुसकर फिल्मी अंदाज मे गोलियो (bullets) से भूनकर हमलावर भाग गए इस घटना से आसपास के इलाके मे दहशत हो गई है । हमलावरो का अभी तक कोई सुराग नही मिला है । हमलावरो के गुजरात की और भागने के समाचार है ।।

बासंवाडा जिले के सल्लाेपाट थाना इलाके की इंदिरा काॅलाेनी में कल रात 9:30 बजे के करीब शराब कारोबारी लाेकेश पुत्र दुर्गाशंकर पारीक(28) पर उनके घर में घुस आए तीन हमलावारों ने फायरिंग कर दी। गंभीर घायल लाेकेश काे अस्पताल लाया गया लेकिन उनकी माैत हाे गई।

गाेली चलाने के बाद हमलावर काले रंग की स्काॅर्पियाे में सवार हाेकर फरार हाे गए। फायरिंग की सूचना मिलते ही नाकाबंदी कराई गई लेकिन हमलावराें का काेई पता नहीं चला। लाेकेश के दाेनाें कानाें के नीचले हिस्से, छाती, पीठ, कंधे और नाक के नीचले हिस्से में गोलिया लगी जिससे आशंका है कि लाेकेश काे छह राउंड फायरिंग की गई।

लाेकेश छाेटी सादड़ी के करजू गांव रहने वाला था और सल्लाेपाट में किराए के मकान में रह रहा था। मोनाडूंगर में शराब की दुकान में वह पाटर्नर था। आशंका है कि फायरिंग की वजह दुकान के हिसाब काे लेकर हाे सकती है। घटना के वक्त लाेकेश लुडाे खेल रहा था।

घर पर उसके अंकल कमल और एक महिला मित्र थी। रात करीब 9:30 बजे थे। खाना भी बन रहा और तीनाें ही आपस में बातचीत कर रहे थे। अचानक तीन जने घर में घुस आए और बिना किसी देरी के लाेकेश पर एक युवक ने एक के बाद एक फायर किए।

गाेलियाें की आवाज सूनकर लाेग घराें से बाहर निकल आए। काेई कुछ समझ पाता इससे पहले हमलावर पिछले दरवाजे से भागकर मुख्य सड़क पर चले गए। जहां काले रंग की स्काॅर्पियाे में सवार हाेकर फरार हाे गए। गाेलियां लगने से लाेकेश खून से लथपथ नीचे गिर पड़ा।

दूसरी ओर उसके अंकल कमल दाैड़कर थाने पर पहुंचे और पुलिस काे घटना के बारे में बताया। इस पर हरकत में आई पुलिस ने नाकाबंदी कराई। लेकिन हमलावारों का काेई पता नहीं चल पाया। घायल लोकेश काे एमजी अस्पताल लाया गया लेकिन इससे पहले कि डाॅक्टर उसका इलाज करते इससे पहले लोकेश ने दम थोड दिया ।

सूत्रो के अनुसार लाेकेश बांसवाड़ा कभी-कभार आता था। फायरिंग किस वजह से की गई यह साफ नहीं है लेकिन गाेली चलाने में पाटर्नर सुनील के हाेने की आशंका पर इसे दुकान के हिसाब काे लेकर विवाद हाेने की आशंका से भी जाेड़ा जा रहा है।

माेनाडूंगर शराब की दुकान प्रदेश की सबसे महंगी ठेके की दुकानों में से एक है। यहां से हर साल लाखाें का राजस्व मिलता है। ऐसे में आशंका है कि हाे सकता है कि पाटनर्राें में हिसाब काे लेकर काेई विवाद हाे गया हाे।

पुलिस के अनुसार लाेकेश के अंकल ने रिपाेर्ट दर्ज कराई है जिसमेआशंका जताई है कि फायरिंग सुनील ने की और हमले में महेश प्रजापत और पुष्कर भी शामिल थे। वारदात में इस्तेमाल स्काॅर्पियाे का महेश प्रजापत की थी ।

लोकेश के अंकल के अनुसार लोकेश और उसके पार्टनर मे पिछले 3 दिन से विवाद चल रहा था । दूकान का ठेका महेश के नाम है और लोकेश पार्टनर है । हमलावर फायरिंग के बाद सल्लाेपाट जो गुजरात सीमा से करीब 5 किमी पहले है इसलिए हमलावर गुजरात मे जा सकते है ।

विदित है की दो दिन पूर्व ही कोटा मे शराबठेकेदार जितेन्द्र गिरी की दिनदहाडे गोली मारकर हत्या कर दी गई थी ।

 

News Topic : Rajasthan,Robbery, gangrape, murder,crime,Uttar Pradesh,Liquor dealer,bullets

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम