बीकानेर राजस्थान

राजस्थान में 400 बीएड कालेज मे नये सत्र से प्रवेश पर रोक ?

बीकानेर/ करीब 400 निजी B.Ed कॉलेज द्वारा परफॉर्मेंस अप्रेजल रिपोर्ट(PAR) ( पीएआर) नहीं भरने के कारण आगामी शैक्षणिक सत्र मैं विद्यार्थी आवंटित नहीं किए जाने तथा 0 सत्र कर देने से इन B.Ed कॉलेज में पीटीईटी 2022 के विद्यार्थी भी आवंटित नहीं होने की आशंका है।

सुप्रीम कोर्ट ने की याचिका खारिज

एनसीटीई ने 3 मई, 2022 को एक सार्वजनिक सूचना प्रकाशित की थी, जिसमें पीएआर नहीं भरने वाले बीएड कॉलेजों को सत्र 2022-23 में विद्यार्थी आवंटित नहीं किए जाने तथा शून्य सत्र कहने की बात कही थी। उसके बाद भी सुधार नहीं होने पर बीएड महाविद्यालयों की मान्यता समाप्त करने तक की कार्रवाई कर सकने की बात लिखी गई थी।

हालांकि इस आदेश के खिलाफ बीएड कॉलेजों के संचालक सर्वोच्च न्यायालय तक गए लेकिन सर्वोच्च न्यायालय ने यह कहते हुए उनकी याचिका खारिज कर दी थी कि शिक्षक शिक्षा की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जा सकता। इसलिए पीएआर भरना अत्यावश्यक है।

पीएआर क्या है

बीएड कॉलेजों का एक ऐसा पक्का चिट्ठा है, जिसमें कॉलेज के मानवीय एवं भौतिक संसाधन, वेबसाइट, गूगल डिस्प्ले, योग्यताधारी स्टाफ के दस्तावेज का सचित्र विवरण उपलब्ध है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम