CM Ashok Gehlot said BJP and Sangh people behind the riots
जयपुर राजस्थान

Ashok Gehlot: चिदंबरम के आवास पर सीबीआई की रेड, गहलोत ने बताया बीजेपी को लोकतंत्र के लिए खतरा

जयपुर। पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम के घर और ऑफिस पर सीबीआई की छापेमारी को लेकर कांग्रेस नेताओं ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोल दिया है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भी सीबीआई की छापेमारी को लेकर भाजपा और केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी के राज में लोकतंत्र और संविधान खतरे में है।

सीएम गहलोत ने कहा कि पी चिदंबरम के आवास पर पहले भी ईडी की छापेमारी की गई थी, उनकी गिरफ्तारी हुई तो जेल भेज दिया। अब जब वो जमानत पर हैं तो अभी उनके घर पर सीबीआई की छापेमारी की गई है जो कि दर्शाता है कि देश में आज क्या हालात हैं। सीएम गहलोत ने आज कांग्रेस सेवादल की पदयात्रा के दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी के राज में लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। सीबीआई, इनकम टैक्स और ईडी का दुरुपयोग हो रहा है, यह स्वच्छ राजनीति नहीं है।

यूपीए-2 की सरकार में कई केंद्रीय मंत्रियों के इस्तीफे हुए

सीएम गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि यूपीए-2 के शासनकाल में आरोप लगने पर ही कई केंद्रीय मंत्रियों के इस्तीफे ले लिए गए थे, लेकिन बीजेपी के राज में एक भी मंत्री का इस्तीफा नहीं हुआ है। केंद्रीय राज्य मंत्री टेनी का इस्तीफा बीजेपी ने नहीं लिया और उन्हें बचाने का काम किया।
बीजेपी ने किया था सरकार गिराने का षड़यंत्र
सीएम गहलोत ने कहा कि सियासी संकट के दौरान हमारे नेताओं के घरों पर भी ईडी के छापे मारे गए। उन्होंने कांग्रेस नेता धर्मेंद्र राठौड़ का नाम लेते हुए कहा कि धर्मेंद्र राठौड़ और राजीव अरोड़ा घरों पर छापे मारे गए। जबकि धर्मेंद्र राठौड़ न तो कोई बिजनेसमैन हैं और न ही कोई उद्योगपति हैं।

फिर भी उनके घर पर छापे मारे गए। मेरे भी जोधपुर स्थित पैतृक आवास पर छापे मारे गए। उन्होंने कहा कि यह सरकार गिराने का षड़यंत्र था। अमित शाह और गजेंद्र सिंह शेखावत इस साजिश में शामिल थे। गजेंद्र सिंह शेखावत तो वॉइस सैंपल देने को तैयार नहीं है। उल्टे गजेंद्र सिंह शेखावत ने हमारे ओएसडी लोकेश शर्मा पर दिल्ली पुलिस में एफआईआर दर्ज करवा दी चूंकि दिल्ली पुलिस केंद्र सरकार के अधीन आती है। हमने इनके सरकार गिराने के षड्यंत्र और मनसूबे फेल कर दिए थे, इसलिए इन लोगों को अब चिढ़ बैठ गई है।

इस देश की विचारधारा में कांग्रेस का डीएनए
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि बीजेपी के लोग कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं लेकिन यह नहीं जानते कि इस देश का डीएनए ही कांग्रेस की विचारधारा है। कांग्रेस के सिद्धांत, नीति और आईडियोलॉजी ने इस देश को अखंड रखा हुआ है। हमारे नेताओं ने इस देश को अखंड रखने के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है।

प्रधानमंत्री पद पर रहते हुए इंदिरा गांधी शहीद हो गईं। राजीव गांधी शहीद हो गए, बेंअत सिंह शहीद हो गए लेकिन खालीस्तान नहीं बनने दिया। गहलोत ने कहा कि हम लोकतंत्र वादी हैं और बीजेपी के लोग लोकतंत्रवादी नहीं हैं, इनकी विचारधारा देश को बर्बाद करने वाली है। देश में हिंसा फैलाने वाली है।

धार्मिक स्थलों पर विवाद पैदा कर रही है बीजेपी
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि बीजेपी हमेशा हिंदू- मुसलमान को लड़ाने का काम करती है। उन्होंने कहा कि देश भर में 100 से ज्यादा धार्मिक स्थल ऐसे हैं जहां पर यह विवाद पैदा करेंगे। देश में हिंदू- मुसलमान साथ रहते हैं और आगे भी साथ रहेंगे, लेकिन बीजेपी देश में लोगों के बीच फूट डालने का काम कर रही है। सीएम गहलोत ने कहा कि हमने कभी भी अपनी विचारधारा से समझौता नहीं किया है इसलिए जब भी देश का इतिहास लिखा जाएगा तो उसमें ही लिखा जाएगा कि कांग्रेस के नेताओं ने अपने प्राणों की आहुति दे दी लेकिन अपनी विचारधारा से समझौता नहीं किया है।

कांग्रेस की एकजुटता से घबरा गई मोदी सरकारः डोटासरा

इधर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी पी चिदंबरम के आवास पर सीबीआई के छापों को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि चिदंबरम 3 दिन कांग्रेस चिंतन शिविर हमारे साथ रहे। हम उन्हें एयरपोर्ट तक छोड़ने गए और जब वो अपने घर पहुंचे तो उनके घरों और कार्यालयों पर सीबीआई की छापेमारी कर दी। यह दिखाता है कि कांग्रेस की एकजुटता से बीजेपी बौखला गई हैं क्योंकि कांग्रेस देश में सांप्रदायिक सद्भाव की बात करती है, सामाजिक समरसता की बात करती है और बीजेपी के लोग इसे खत्म करना चाहते हैं।

 

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/