रांग नबंर से 12 वीं की छात्रा को हुआ प्यार और 14 मई को शादी फे पहले दोनो ने ट्रेन के आगे कूद दे दी जान

अलवर। जिले के मालाखेड़ा गांव में रहने वाली तथा कक्षा 12 की छात्रा को मोबाइल से एक रॉन्ग नंबर युवक के लग जाने के बाद दोनों में बातों का सिलसिला शुरू हुआ दोस्ती हुई और फिर दोनों में गहरा प्यार हो गया लेकिन लड़की घरवालों को यह मंजूर नहीं था और उसकी सगाई जो पहले से ही की हुई थी 14 मई को शादी तय कर दी लड़की ने घर से भागकर अपने प्रेमी के पास जा पहुंची और दोनों ने साथ नहीं जीने देने पर एक साथ मरने का निर्णय लिया और ट्रेन के आगे कूदकर प्रेमी प्रेमिका ने एक साथ जान दे दी जिनके शव पटरी पर आज सवेरे पड़े मिले ।

राजगढ़ढ़ थानाधिकारी हरि सिंह ने बताया सदर पुलिस की सूचना पर वह अलवर पहुँचे और शव की शिनाख्त की जिसमें लड़के की पहचान मालाखेड़ा के पुनखर निवासी लोकेश मीणा के रूप में हुई जबकि लड़की मालाखेड़ा थाना क्षेत्र निवासी के रूप में हुई प्रथम दृष्टि प्रेम प्रसंग का मामला प्रतीत होता है।

लापता नाबालिक की थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी

परिजनों ने लड़की को नाबालिक बताया है। नाबालिक अपने घर से 2 दिन से लापता थी। जिसकी राजगढ़ थाने में लापता होने की परिजनों द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस व परिजन मोबाइल लोकेशन के आधार पर लड़की को ढूंढने जयपुर भी पहुंचे थे लेकिन बाद में फोन बंद होने के कारण वह उसे नहीं ढूंढ सके और वापस लौट आए। इसके अगले दिन दोनों ने आत्महत्या कर ली।

लड़की थी 12वी कक्षा की छात्रा

बताया जा रहा है कि लड़का 2 साल से अलवर के मालवीय नगर में रहता था। यहां वह प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहा था जबकि नाबालिक 12वीं कक्षा की छात्रा थी। दोनों में मोबाइल के जरिए रॉन्ग नंबर लगने पर बातचीत का सिलसिला शुरू हुआ और प्यार में बदल गया।

14 मई को होनी थी लड़की की शादी

लड़की के पिता ने बताया कि एक बार उसने लड़की को फोन पर बात करते हुए पकड़ लिया था। जिस पर उसने उसे डांटा था। इसके बाद ही अगले दिन देर रात लड़की घर से चली गई। जाग होने पर उन्होंने आसपास लड़की को ढूंढा लेकिन नहीं मिली। जिसके बाद थाने पहुचने गुमशुदा की रिपोर्ट दर्ज कराई। लड़की की 14 मई को शादी होनी थी।