Congress will rebuild the broken temples in Alwar - Singh, the municipality did not inform the administration about the demolition - Collector Nakate
अलवर राजस्थान

अलवर मे तोडे गए मंदिर कांग्रेस वापस बनाएगी- सिंह, तोडफोड की सूचना पालिका ने प्रशासन को नही दी – कलेक्टर नकाते

अलवर/ राजगढ़ में अतिक्रमण हटाने के नाम पर 300 साल पुराने तोड़े गए मंदिरों को लेकर राजस्थान से दिल्ली तक चल रही सियासत गर्मी के बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा है कि कांग्रेश तोड़े गए मंदिरों को पुनः निर्माण कराएगी जिनके मकान और दुकान में टूटे हैं उनको मुआवजा दिया जाएगा अगर दूसरी और भाजपा इस मुद्दे को लेकर प्रदेश व्यापी आंदोलन शुरू करने की तैयारी में है और कांग्रेसी पर लगातार हमलावर की मुद्रा में बनी हुई है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव जितेंद्र सिह ने रविवार को कहा कि राज्य सरकार मंदिर बनाएगी, मूर्तियों की विधि-विधान से स्थापना कराई जाएगी। नगर पालिका के सभापति के साथ ही मंदिर तोड़ने वाले अन्य लोगों के खिलाफ पुलिस में प्राथमिकी दर्ज होगी।

अलवर के कलेक्टर शिव प्रकाश एम नकाते शिवप्रसाद ने कहा कि जिन तीन मंदिरों को तोड़ा गया है, उनका फिर उसी स्थान पर पुनर्निर्माण होगा। इस मंदिर का निर्माण अलवर के कच्छवाहा वंश के शासक प्रताप सिंह नरूका (1775-1790 ई.) और बख्तावर सिंह (1790-1815 ई.) के शासन में कराया गया था।

सियासत जारी

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि राज्यपाल को ज्ञापन देकर आंदोलन शुरू किया जाएगा। नगर पालिका के बोर्ड में पारित प्रस्ताव में मंदिर तोड़ने का उल्लेख नहीं किया गया। प्रस्ताव में मास्टर प्लान के अनुसार गौरव पथ बनाने का उल्लेख था, लेकिन यह नहीं लिखा गया था कि सड़क कितनी चौड़ी करनी है। अधिकारियों ने कांग्रेस विधायक जौहरीलाल मीणा के इशारे पर मंदिर, मकान और दुकानों पर बुलडोजर चलाया था। राज्य के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जुली का कहना है कि सभापति सतीश दहरिया की अध्यक्षता में भाजपा शासित बोर्ड ने तोड़फोड़ करने का निर्णय लिया है। सरकार मंदिरों का पुनर्निमाण कराने के साथ ही जिन लोगों के पास मकान और दुकान के दस्तावेज हैं, उन्हे मुआवजा देगी।

प्रशासन को नही दी सूचना

रविवार को अधिकारियों के साथ बैठक के बाद कलेक्टर शिवप्रसाद मदन ने कहा कि मंदिर, मकान और दुकान तोड़ने का निर्णय नगर पालिका के बोर्ड की बैठक में प्रस्ताव पारित कर लिया गया था। इस संबंध में जिला प्रशासन को सूचना नहीं दी गई थी।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम