बढ़ती वारदातों से शहरवासी दहशत में, रिटायर्ड

प्रधानाध्यापिका से बंधक बनाकर लूट ग्रामीण वृद्धा को जेएलएन अस्पताल में लगाया चूना अजमेर (नवीन वैष्णव)। शहर में पिछले कुछ समय से वारदातों के ग्राफ में ईजाफा हुआ है, हालांकि कई वारदातें खोलने में पुलिस को सफलता भी हाथ लगी है लेकिन चोरी, चैन स्नेचिंग, लूट जैसी वारदातों से शहरवासी दहशत में है। बीती रात …

बढ़ती वारदातों से शहरवासी दहशत में, रिटायर्ड Read More »

June 12, 2018 3:28 pm

प्रधानाध्यापिका से बंधक बनाकर लूट
ग्रामीण वृद्धा को जेएलएन अस्पताल में लगाया चूना

अजमेर (नवीन वैष्णव)। शहर में पिछले कुछ समय से वारदातों के ग्राफ में ईजाफा हुआ है, हालांकि कई वारदातें खोलने में पुलिस को सफलता भी हाथ लगी है लेकिन चोरी, चैन स्नेचिंग, लूट जैसी वारदातों से शहरवासी दहशत में है। बीती रात हरिभाउ उपाध्याय नगर स्थित गोकुल धाम द्वितीय के 503 नम्बर फ्लेट में अकेली रहने वाली रिटायर्ड प्रधानाध्यापिका सुशीला चण्डक के घर में घुसकर तीन बदमाशों ने लूट की वारदात अंजाम दी।
पीडिता सुशीला चण्डक के भाई डॉ राजेन्द्र चण्डक ने बताया कि उनकी बड़ी बहन सुशीला अविवाहित है और फ्लेट में अकेली रहती थी। सोमवार रात लगभग साढ़े 9 बजे तीन बदमाश फ्लेट में घुस गए और उन्होंने उसकी बहन को बंधक बनाकर पहले तो मारा जिससे वह बेहोश हो गई, बाद में उसके घर से भारी मात्रा में सोना-चांदी और नगदी पर हाथ साफ कर गए। जब बहन सुशीला होश में आई तो पड़ोसी शैलेन्द्र अग्रवाल के फ्लेट तक घिसटते हुए गई और उन्हें उठाकर अपने साथ घटित घटना की जानकारी दी। अग्रवाल ने रिश्तेदारों को फोन किया और रिश्तेदारों की सहायता से सुशीला को जेएलएन अस्पताल पहुंचाया जहां उसका ईलाज चल रहा है।
ब्याज का काम करती है पीड़िता
उत्तर वृताधिकारी दुर्ग सिंह राजपुरोहित ने बताया कि पीड़िता सुशीला अभी बयान देने की स्थिति में नहीं है। तीन युवक जो पीड़िता के घर से निकल रहे हैं, वह सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गए हैं। तीनों स्कूटी पर सवार होकर वहां आए थे। उन्होंने कहा कि टेबल पर पानी की बोतल और ग्लास भी मिले हैं। इससे प्रतीत होता है कि पीड़िता उक्त युवकों को पहचानती थी। किन कारणों से बात बिगड़ी और युवकों ने यह किया इसकी जांच की जा रही है। डीएसपी राजपुरोहित ने कहा कि पीड़िता ब्याज पर रूपए देती थी और इसकी एवज में सोने के जेवरात आदि रखवाती थी।

जेवरात के बदले थमाए पत्थर
जेएलएन अस्पताल में दुसरी वारदात हुई। इसकी शिकार केकड़ी निवासी गुलाब देवी हुई। गुलाब देवी ने बताया कि वह अस्पताल में भर्ती परिजन को देखने आई थी। यहां उसे एक महिला ने बातों में उलझाया। महिला के पास एक अधेड़ व एक युवक भी था। उन तीनों ने उसे डरा-धमका कर सोने का मांदलिया और कान के टोप्स उतरवा लिए और कागज में डालने की बात कही। जब उसने कुछ समय बाद कागज खोलकर देखा तो उसमें पत्थर और गुटखा मिला। यह देखते ही उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। पीड़िता की रिपोर्ट पर कोतवाली थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया और कुछ महिलाओं को भी हिरासत में भी लिया है।

Prev Post

दो चौपहिया वाहन सहित पांच वाहन चोर गिरफ़्तार

Next Post

राजपूत समाज ने चुनावों में भाजपा के विरोध करने दी चेतावनी

Related Post

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know