अजमेर डिस्कॉम के एमडी बीएम भामू की क़ाबिल-ऐ-तारीफ़ पहल, यही पहल शहरों और कस्बों में भी शुरू हो तो समस्याओं का त्वरित निस्तारण हो जाए।

 

एम.इमरान टांक/ आज दैनिक अख़बार में अजमेर डिस्कॉम की पहल पर एक ख़बर प्रकाशित हुई है। पहल लाज़वाब है। अजमेर डिस्कॉम के एमडी बीएम भामू नें बिजली व्यवस्था का जमीनी फीडबैक लेनें के लिए मार्च महीनें से जेईएन स्तर के इंजीनियरों ओर कर्मचारियों की सेल गठित की है। सेल का काम दिनभर में तक़रीबन 50 सरपंचों को कॉल कर उनकी पंचायत की बिजली आपूर्ति का फीडबैक लेकर प्रबंधन को अवगत कराना है।

अजमेर डिस्कॉम के एमडी भामू के अनुसार उनके कार्यक्षैत्र में 3600 पंचायतें आती है उनमें से अबतक 700 पंचायतों में फीडबैक लिया जा चुका है। भामू की इस पहल को सीएम राजे नें भी सराहा है। अगर एमडी भामू यही व्यवस्था शहरों और क़स्बों में भी शुरू कर दे तो बिजली प्रबंधन और सुदृढ़ हो सकता है। शहरों में नगर निगमों, नगर परिषदों और कस्बों में नगरपालिकाओं के पार्षदों से ये फीडबैक लिया जा सकता है।