अजमेर में  भडकाऊ भाषण देने पर खादिम सहित 3 गिरफ्तार

2 including doctor arrested for stealing blanket

अजमेर/ मौन जुलूस के दौरान अजमेर में। गरीब नवाज ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की विश्व प्रसिद्ध दरगाह के निजाम गेट पर शर्तों का उल्लंघन करते भड़काऊ भाषण देने की मामले में पुलिस ने दरगाह के खादिम सहित तीन जनों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है तथा अन्यो की तलाश की जा रही है ।

एस पी विकास शर्मा के अनुसार दरगाह के बाहर भीड़ में भड़काऊ नारेबाजी के मामले में दरगाह थाना पुलिस ने खादिम सहित तीन को गिरफ्तार किया है। वहीं वीडियो के आधार पर पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है। आरोपियों ने मौन जुलूस के दौरान हिंसा भड़काने जैसे नारे दिए थे।

दरगाह थाना प्रभारी दलबीर सिंह के अनुसार 17 जून को विनायक बिहार कॉलोनी, फाय सागर रोड, पुलिस थाना गंज हाल दरगाह थाने के सिपाही जयनारायण जाट ने रिपोर्ट दी थी। इसका वीडियो भी सामने आया था। वीडियो के आधार पर पुलिस ने खादिम मोहल्ला निवासी खादिम फखर जमाली, फूल गली निवासी ताजीम और गुजरात निवासी रियाज को गिरफ्तार किया है। वीडियो के आधार पर अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

सिपाही जयनारायण जाट ने दी रिपोर्ट में बताया कि 17 जून को दोपहर 3 बजे उसकी ड्यूटी निजाम गेट पर थी। इसी दौरान कुछ खादिमों द्वारा गेट पर पूर्व से निर्धारित मौन जुलूस की शर्तों का उल्लंघन करते हुए वहां भाषण दिया। इसके लिए रिक्शे पर लाउड स्पीकर लगाया। सिपाही ने रिपोर्ट में बताया कि इस दौरान 2500-3000 व्यक्तियों की भीड दरगाह के सामने थी। जबकि गौहर चिश्ती को पूर्व में समझाइश की गई थी। इसी दौरान भड़काऊ भाषण के साथ नारे बाजी की गई। ऐसे में धार्मिक स्थल से हिंसा के लिए भीड को उसकाने और हत्या का आह्वान करने पर मामला दर्ज किया गया था।