आज भी खेतो या चौकी के पीछे होता है खुले में पोस्टमार्टम

  • उनियारा सीओ सर्किल में चीर घर नही

Tonk News/ Dainik reporter- टोंक जिले में उनियारा सीओ सर्किल में पोस्टमार्टम की व्यवस्था नही है, आज भी कभी खेतो में तो हाइवे के समीप चौकी के पीछे पोस्टमार्टम होता है और आज भी वहां घटना और दुर्घटना के दौरान मृतक के पोस्टमार्टम के लिए खुले में पोस्टमार्टम करना पड़ता है। अन्यथा सआदत अस्पताल टोंक सहित आसपास के अन्य अस्पतालो में ले जाकर पुलिस को पोस्टमार्टम कराना पड़ता है।

उनियारा सीओ सर्किल क्षेत्र में पुलिस थाना उनियारा, अलीगढ़, सोप, बनेठा, नगरफोर्ट में कहीं पर पोस्टमार्टम की व्यवस्था नही है और जब भी कोई सडक़ दुर्घटना हो या अन्य कोई घटना, पोस्टमार्टम कराने के लिए कोई चीरघर नही होने से खुले में ही डाक्टरों को पोस्टमार्टम करना पड़ता है। वही जब भी कोई बड़ी घटना हो या कोई गंभीर मामला हो तो उसके लिए पुलिस को सआदत अस्पताल सहित आसपास के अस्पतालो में जाकर मृतक का पोस्टमार्टम कराना पड़ता है।

ऐसे में दुखद घटना के बीच परिजनो को पोस्टमार्टम के चक्कर में या तो इधर-उधर के धक्के खाने पड़ते है। या फिर उनके लिए खुले में पोस्टमार्टम करना मजबूरी होती है।  रविवार को भी दुष्कर्म के बाद मृतक बालिका के पोस्टमार्टम के लिए टोंक सआदत अस्पताल लगाया गया और उसको पोस्टमार्टम किया गया। जबकि उनियारा में अगर चीरघर होता तो वही पर सारी प्रक्रिया हो जाती।