अलवर राजस्थान

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों को झांसा दे रहे 2 आरोपी गिरफ्तार

भिवाड़ी । अलवर जिला स्पेशल टीम तथा मांढ़ण थाना पुलिस ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई कर कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों को अनुचित तरीके से पास कराने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर गांव नांगल मेहता निवासी अमित कुमार यादव पुत्र ईश्वर सिंह (31) एवं गांव कान्हावास् थाना मांढ़ण निवासी दीपक उर्फ गौरी शंकर यादव पुत्र मुकेश उर्फ रामजस को गिरफ्तार कर दोनो के पास से जब्त मोबाइल से भर्ती संबंधी व्हाट्सएप चैट प्राप्त की गई है।

गिरफ्तार आरोपी 15 लाख रुपए में सौदा कर बेरोजगार युवकों को परीक्षा से पेपर पहले पेपर दिखाकर पास करवाने का झांसा दे रहे थे।

      भिवाड़ी एसपी शांतनु कुमार ने बताया कि कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा के संबंध में जारी दिशानिर्देश और विगत वर्षों में भर्ती परीक्षाओं में संगठित गिरोह द्वारा स्मार्ट गैजेट का प्रयोग कर नकल कराने के प्रयास किए जाने को ध्यान में रखते हुए ऐसे गिरोहों और सन्दिग्ध व्यक्तियों पर पर सतत निगरानी रखी जा रही थी।

ऐसे संगठित अपराधियों की धरपकड़ के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महिला अपराध अनुसंधान सेल अतुल साहू के सुपरविजन में प्रभारी डीएसटी मुकेश कुमार एसआई को निर्देश दिए जाकर विशेष टास्क दिया गया था।

      एसपी सिंह ने बताया कि शुक्रवार को डीएसटी टीम को सूचना मिली की मांढ़ण थाना निवासी दीपक उर्फ गौरीशंकर और अमित कुमार अपने अन्य साथियों के साथ एक गिरोह बनाकर कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा में अनुचित तरीकों से अभ्यर्थियों को पेपर पास कराने की योजना पर काम कर रहे हैं। सूचना पर डीएसटी के एएसआई हरविलास द्वारा सत्यापन किया गया।

उसके बाद डीएसटी प्रभारी मुकेश कुमार और थाना अधिकारी मांढ़ण मुकेश कुमार उप निरीक्षक के नेतृत्व में टीम द्वारा अमित कुमार और दीपक उर्फ गौरीशंकर को गिरफ्तार किया गया।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.