Once again in preparation for a major reshuffle in the bureaucracy, the government, brainstorming on the transfer list of IPC officers
जयपुर राजस्थान

शिक्षा विभाग – JD से लेकर सहायक कार्मिक तक 1 लाख तबादले की संभावना,इन जिलों में नही होंगे…

जयपुर/ बीकानेर/ सरकार द्वारा तबादलों से रोक हटाने के साथ ही प्रदेश में सबसे बड़े महकमे के रूप में शिक्षा विभाग तबादलों को लेकर सुगबुगाहट शुरू होने के साथ ही तबादलों का इंतजार कर रहे अधिकारी और कार्मिक अपने अपने इच्छित स्थान पर तबादला कराने की कवायद में जुट गए हैं । विभाग में संयुक्त निदेशक से लेकर सहायक कर्मचारी तक के करीब एक लाख तबादले होने की उम्मीद है । तबादलों के लिए आवेदन की प्रक्रिया संभवतया 10 जून के बाद शुरू हो सकती है।

तबादलों पर रोक हटाने के बाद विभाग में सहायक निदेशक से लेकर सहायक कर्मचारी तक के तबादले हो सकते हैं हालांकि विभाग को तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादलों के लिए अभी तक सरकार द्वारा हरी झंडी नहीं मिली है । अगर सरकार तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादलों को भी हरी झंडी दे देती है तो यह तबादलों की संख्या एक लाख तक पहुंच सकती है । इस बार तबादलों में प्रिंसिपल, व्याख्याता, प्रधानाध्यापक ,ग्रेड सेकंड और वाइस प्रिंसिपल के तबादले होना तय है।

सूत्रों के अनुसार तबादलों की प्रक्रिया के तहत अविवाहित महिला शिक्षक, कैंसर पीडित शिक्षक व अन्य असाध्य गंभीर रोगों से पीड़ित शिक्षकों को तबादलों में वरीयता दी जाएगी तथा पति पत्नी को एक जगह लगाने की मांग इस बार पूरी होगी या नहीं यह भी स्पष्ट नहीं है । वहीं दूसरी ओर अगर सरकार तृतीय श्रेणी के शिक्षकों के तबादलों की स्वीकृति देती है तो तृतीय श्रेणी के शिक्षकों को तबादलों के लिए फिर आवेदन करना पड़ेगा । विदित है कि पूर्व में करीब 85 हजार से अधिक सत्य श्रेणी के शिक्षकों ने आवेदन किए थे लेकिन वह मान्य नहीं है।

इन जिलों में नहीं होंगे तबादले

हालांकि सरकार ने तबादलों पर रोक हटा दी है लेकिन इस रोक को हटाने का लाभ कुछ जिलों के शिक्षकों को नहीं मिल पाएगा और उन जिलों में अभी शिक्षकों के तबादले नहीं होंगे ऐसी प्रबल संभावनाएं हैं । सूत्रों के अनुसार डार्क जोन में आने वाले जिले बाड़मेर जैसलमेर बीकानेर डूंगरपुर के अलावा आदिवासी जिले जहां शिक्षक जाना ही नहीं चाहते हैं और ऐसे में वहां पहले से कार्यरत शिक्षकों को अन्य जिलों में भेजने से वहां शिक्षकों की कमी हो सकती है इसलिए सरकार इन जिलों में कार्यरत शिक्षकों के तबादले नहीं करेगी ऐसी खबरें हैं।

तबादलों को लेकर कवायद शुरू

हर बार की तरह इस बार भी शिक्षकों के तबादलों को लेकर विभाग के अधिकारियों और अनुभाग के कर्मचारियों तथा अधिकारियों का शिविर जयपुर में लगाया जाता है और वही इस शिविर में मंथन व सूचियां तैयार होती है । इस बार भी शिविर को लेकर विभाग द्वारा तैयारियां शुरू कर दी गई है सरकार की तरफ से इशारा मिलते ही कैंप शुरू हो जाएगा।

इनकी जुबानी
शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल (आईएएस) में दैनिक रिपोर्टर डॉट कॉम से तबादलों को लेकर हुई बातचीत में बताया कि तबादलों के लिए उचित शिक्षकों और कार्मिकों से आवेदन मांगे जाएंगे इसके लिए बकायदा सरकार द्वारा कार्यक्रम बनाकर निदेशालय को मिलेगा उसकी पालना की जाएगी।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम